Sign In
  • हिंदी

सही समय पर उपचार से 86% दिल के रोगियों की बचाई जा सकती है जान, इन 4 तरीकों से रखें दिल का ख्याल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के आकलन के मुताबिक दुनिया भर में हर साल करीब 1.79 करोड़ लोगों की मौत दिल व दिल से जुड़ी बीमारियों के चलते हो जाती है।

Written by Atul Modi |Updated : October 1, 2022 6:01 AM IST

आज से 10 साल पहले भी आम समझ यह थी कि केवल बड़ी उम्र में दिल की बीमारियों का खतरा होता है, पर आज यह स्थिति नहीं है। चाहे सिद्धार्थ शुक्ला जैसे बड़े सेलेब्रिटीज की अचानक दिल की बीमारियों से हुई मौतें हों या फिर हमारे आसपास के लोग हों- नौजवानों और यहां तक कि फिटनेस व सेहत के प्रति सजग नौजवानों में भी बढ़ती दिल की बीमारियां एक खतरे की घंटी है।

आम भाषा में कहें तो दिल के दौरे का मतलब है दिल तक खून पहुंचाने वाली धमनियों का कोलेस्ट्रॉल आदि की परत के चलते पतला हो जाना, जिससे अचानक ही दिल तक खून की सप्लाई में रुकावट। इसी रुकावट को हार्ट अटैक या दिल का दौरा कहते हैं। दिल के दौरे या दिल से जुड़ी बीमारियां कोई नई नहीं हैं, पर इनमें जो नया है वह यह कि जहां पहले दिल के दौरे बड़ी उम्र या उन लोगों को शिकार बनाती थी जिन्हें पहले से दिल की बीमारियां थीं, वहीं यह अब यह उन्हें भी हो रही हैं जो देखने पर एकदम फिट लगते हैं। डॉक्टरों के मुताबिक दिल की बीमारियों के 86% मामले ऐसे होते हैं जिनमें सही समय पर बचाव व इलाज से मौतें रोकी जा सकती हैं। इसलिए कारणों को समझना बेहद जरूरी बन जाता है।

कैसे रखें दिल को स्वस्थ?

आज की भागदौड़ भरी हमारी जिंदगी ही दिल की बीमारियों के पीछे सबसे बड़ा कारण है। डेस्क व कंप्यूटर पर लंबे समय तक काम करना, असंतुलित आहार, सिगरेट व शराब का बढ़ता इस्तेमाल आदि दिल की बीमारियों के लिए मुख्य रूप से जिम्मेदार हैं। लाइफस्टाइल से जुड़े कारणों में सबसे बड़ा कारण है किसी भी चीज का जरूरत से अधिक होना या असंतुलित होना। चाहे कोलेस्ट्रॉल हो या फैट या फिर खाने-पीने की कोई और चीज। जैसे ही इनकी मात्रा असंतुलित हो जाती है, यह हमारे पूरे स्वास्थ्य के लिए ही खतरा बन जाते हैं। दूसरा अहम पहलू है, आम लोगों और खासकर नौजवानों द्वारा नियमित हेल्थ चेकअप को नजरअंदाज करना। रेगुलर हेल्थ चेकअप से कई बार दिल की बीमारियों के खतरे को पहले से पहचाना जा सकता है और समय रहते कदम उठाया जा सकता है। पर, उलट इसके बिना रेगुलर हेल्थ चेकअप के अक्सर दिल के दौरे प्राण घातक ही सिद्ध होते हैं। इसके साथ ही हमारी व्यस्त जिंदगियों में खेल-कूद और एक्सरसाइज के लिए अधिकतर लोग कोई समय ही नहीं रख पाते हैं। रोजाना एक्सरसाइज से दिल को स्वस्थ रखने में काफी हद तक मदद मिल सकती है।

Also Read

More News

ये हैं दिल को सेहतमंद रखने के मंत्र

1.किसी भी चीज़ की अति खतरनाक है: हर चीज संतुलित मात्रा में ही ठीक है। नमक, तेल/घी, कार्बोहाइड्रेट या फिर शराब का अति होना ही दिल पर हमला है।

2. रूटीन चेकअप: साल में एक बार रुटीन चेकअप जरूर करवाएं। खासकर जिनके परिवार में दिल की बीमारियों या फिर डायबिटीज का इतिहास है उनके लिए यह और भी अहम है।

3. एक्सरसाइज जरूर करें: अपनी व्यस्त जिंदगी में चाहे आप कितने ही थके हुए क्यों न हों हर रोज एक्सरसाइज जरूर करें। याद रखिए यही आपको और आपके दिल को तरोताजा रखेगा।

4. काम के साथ आराम भी: तेज़ रफ्तार जिंदगी में थोड़ा रुकना बेहद जरूरी है। हमारी रुटीन में अगर हम आराम के लिए जगह नहीं रखते हैं तो सीधे तौर पर बीमारियों को न्यौता देंगे।

(Inputs By: Dr Nirmal Ghati - Consultant - PSRI Heart Institute)

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on