Sign In
  • हिंदी

हाई बीपी के कारण सोते समय शरीर में दिखते हैं ये 5 लक्षण, जानें और रात में जरूर चेक करें अपना ब्लड प्रेशर

Can high bp affect sleep: क्या आपको सोते समय बेचैनी महसूस होती है और सिर में हल्का दर्द रहता है। ये हाई बीपी का संकेत हो सकता है।

Written by Pallavi |Published : September 6, 2022 3:13 PM IST

हाई बीपी की समस्या आज कल हर दूसरे व्यक्ति में है। इसके पीछे कई कारण है जैसे कि डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्रॉल तो, कभी स्ट्रेस और स्मोकिंग। हाई बीपी की समस्या कभी भी जानलेवा हो सकती है। क्योंकि ये अचानक हार्ट अटैक और स्ट्रोक का कारण बन सकती है। ऐसे में हमें इन समस्याओं से बचने के लिए समय-समय पर बीपी चेक करते रहना चाहिए और अगर बीपी ज्यादा रहे तो डॉक्टर से बात करनी चाहिए। इस दौरान ध्यान देने वाली एक बात ये भी है कि अक्सर लोग दिन के समय बीपी चेक करते हैं और रात में नहीं। जबकि, American Heart Association का कहना है कि रात में सोने से पहले बीपी चेक करना, दिन से ज्यादा जरूरी है। क्यों जानते हैं।

रात में बीपी चेक करना क्यों जरूरी है-Why should you take your blood pressure at night?

American Heart Association’s flagship journal Circulation की मानें तो, जिन लोगों का बीपी रात के समय ज्यादा रहता है उनमें अचानक हार्ट अटैकऔर स्ट्रोक का खतरा ज्यादा रहता है। शोध बताते हैं सुबह के बजाय रात में अपने बीपी चेक करना बेहद जरूरी है। क्योंकि ये हृदय रोग के कारण आपके मरने के जोखिम को 45% तक कम कर सकता है। दरअसल, सोते समय शरीर आराम में होता है और तब शरीर में हो रही गतिविधियों का अच्छे से पता लगाया जा सकता है। ऐसे में जिन लोगों की बीपी रात में ज्यादा रहती है, उनमें ये खराब ब्लड सर्कुलेशन, शरीर में कहीं ब्लॉकेज, असंतुलित डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्रॉल का संकेत हो सकता है। ऐसे में शरीर में दिखने वाले इन लक्षणों को नजरअंदाज ना करें।

1. पैरों में झनझनाहट-Tingling in feet

रात को सोते समय अगर आपके पैरों में झनझनाहटरहती है तो ये इस बात का संकेत है कि आपकी बीपी हाई है। साथ ही ये इस बात का संकेत हैं कि आपका ब्लड सर्कुलेशन सही नहीं है और इस वजह से ये झनझनाहट पैदा कर रहा है। ऐसे में लगातार ये समस्या महसूस हो तो डॉक्टर को बताएं और अपना हार्ट चेकअप करवाएं।

Also Read

More News

2. स्लीप एपनिया-Sleep apnea

स्लीप एपनिया हार्ट डिजीज के कुछ लक्षणों में से एक हो सकता है। ये बताता है कि आपको दिल की बीमारी हो सकती है क्योंकि आपके ब्लड प्रेशर का पैटर्न सही नहीं है। साथ ही ये इस बात का संकेत है कि आपके दिल पर ज्यादा प्रेशर पड़ रहा है। ऐसे में आपकी नींद बार-बार टूट सकती है या फिर सोने के बाद भी आपको लग सकता है कि आपकी नींद पूरी नहीं हुई है।

3. सिर में दर्द महसूस करना-Headache

सिर में दर्द महसूस करना या सिर भारी महसूस होना हाई बीपी का संकेत हो सकता है। ऐसे में जरूरी ये है कि अगर रेगुलर रहे तो इसे नजरअंदाज ना करें और अपने डॉक्टर से बीपी चेक करवाएं। दरअसल, ये काफी हल्का होता है और सो कर उठने के बाद भी महसूस हो सकता है। ये बढ़े हुए ब्लड प्रेशर के कारण हो सकता है जिसमें शरीर के कई अंगों में सेंसिटिविटी महसूस होती है।

4. हाथों में गर्मी और जलन महसूस करना-burning hands

हाथों में गर्मी और जलन हाई बीपी से जुड़ी हो सकती है। खास कर कि अगर ये रात के समय हो तो। दरअसल, जब आपका बीपी बढ़ा रहता है तो ये शरीर को शांत होने नहीं देता है और इससे कई बार गर्मी लग सकती है और पसीना आ सकता है।

5. स्ट्रेस महसूस करन-feeling stressed out

हाई बीपी कार्टिसोल लेवल को बढ़ा सकता है। इससे स्ट्रेस महसूस हो सकता है और नींद की कमी हो सकती है। तो,इन तमाम लक्षणों को नजरअंदाज ना करें और लक्षण महसूस होते ही अपने डॉक्टर को दिखाएं। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि हाई बीपी से बचें और रात में सोने से पहले अपना बीपी चेक जरूर करें।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on