Sign In
  • हिंदी

अब लक्षण दिखे बिना ही डिटेक्ट किया जा सकता है कैंसर, नए रिसर्च का दावा

कैंसर एक ऐसी बीमारी है, जिसका पता आमतौर पर काफी देरी से चलता है। इस वजह से कई लोगों में कैंसर काफी गंभीर स्टेज पर पहुंच जाता है। लेकिन, अब कैंसर को लेकर एक नया रिसर्च सामने आया है। चलिए जानते हैं इस रिसर्च के बारे में-

Written by Kishori Mishra |Updated : May 2, 2020 10:28 AM IST

लॉकडाउन के बीच दो दिग्गज बॉलीवुड एक्टर के निधन की खबर सुनकर पूरा देश दुखी है। 24 घंटे के अंदर ही बॉलीवुड के दो बेहतरीन कलाकारों की मौत हो गई। 29 अप्रैल को इरफान खान और 30 अप्रैल 2020 को ऋषि कपूर इस दुनिया से रुखसत हो गए। एक ओर जहां इरफान खान की मौत का कारण कोलोन इंफेक्शन बताया जा रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ ऋषि कपूर की मौत का कारण कैंसर (Cancer) है। कैंसर (Cancer) एक ऐसी बीमारी है, जिसका पता आमतौर पर काफी देरी से चलता है। इस वजह से कई लोगों में कैंसर का इलाज करना काफी कॉम्प्लिकेशन भरा हो जाता है। कैंसर को लेकर एक नया रिसर्च आया है। चलिए जानते हैं, इस नए रिसर्च के बारे में-

कैंसर के लक्षण पहले हो सकते हैं डिटेक्ट

रिसर्च में सामने आया है कि एक ब्लड टेस्ट (Blood Test) के जरिए ही शरीर में ना दिखने वाले कैंसर के लक्षण को डिटेक्ट किया जा सकता है। खबरों के मुताबिक, यह ब्लड टेस्ट ना सिर्फ लक्षणों, बल्कि कई प्रकार के कैंसर्स का भी खुलासा कर सकता है। यह रिसर्च हाल ही में कई लोगों पर किया गया है। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी की टीम ने इस टेस्ट पर रिसर्च किया है। इस टीम के लोगों ने बताया कि ये ब्लड टेस्ट कैंसर से जूझ रहे मरीजों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। इस टेस्ट से लक्षणों का बहुत पहले पता लगाया जा सकता है, जिससे डॉक्टर को इलाज में काफी मदद मिलेगी। हालांकि, इस टेस्ट से महिलाओं में सबसे ज्यादा कैंसर डिटेक्ट कर सकते हैं।

पहले स्टेज से ही शुरू हो सकता है इलाज

इस ब्लड टेस्ट के जरिए लोगों में कई तरह के कैंसर का पता लगाया जा सकता है। इस रिसर्च में 10 हजार ऐसी महिलाओं का ब्लड टेस्ट किया गया, जिसमें कैंसर के कोई भी लक्षण नजर नहीं आ रहे थे। ब्लड टेस्ट में जब उन महिलाओं का रिजल्ट पॉजिटिव आया, तब उनका पीईटी और सिटी स्कैन किया गया, जिसमें ट्यूमर होने की पुष्टि हुई। इन महिलाओं में करीब 26 तरह के कैंसर कंफर्म किए गए। इस टेस्ट के जरिए पहले ही स्टेज पर कैंसर के मरीजों का इलाज किया जा सकता है। इस टेस्ट को लिक्विड बायोप्सी (Liquid biopsy) का नाम दिया गया है, जो कि कैंसर को शरीर में फैलने से पहले ही पता लगा सकता है।

Also Read

More News

कई महिलाओं की हुई सर्जरी

रिसर्च में कैंसर का पता लगने पर कई महिलाओं की सर्जरी की गई। हालांकि, ये महिलाएं किस हद तक ठीक हो सकती हैं, इस बारे में अभी कुछ भी कहा नहीं जा सकता है। जिन महिलाओं का ब्लड टेस्ट किया गया था, उनमें से 6 को ओवेरियन कैंसर है, जिसके लक्षण शरीर में आसानी से दिखते नहीं हैं। इस कैंसर का पता तब चलता है, जब यह हमारे पूरे शरीर में फैल जाता है।

इरफान खान ने किया था न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर को हराने का काम, जानें इसके कारण और लक्षण

इसके अलावा 9 महिलाओं में लंग कैंसर डिटेक्ट किए गए। ये कैंसर भी ऐसा कैंसर है, जिसके बारे में जल्दी पता नहीं चलता है। टीम के शोधकर्ता Dr. Bert Vogelstein ने कहा, अभी इस टेस्ट को सभी के सामने नहीं लाया जा सकता है, क्योंकि ये रिसर्च का पहला स्टेप ही है। टीम अभी भी इस रिसर्च पर काम कर रही है। अभी इसका एक बड़ा ट्रायल तैयार हो रहा था, ताकि टेस्ट के परिणाम गलत ना निकले।

बोन मैरो कैंसर से पीड़ित थे ऋषि कपूर, जानें इसके लक्षण और इलाज

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on