Advertisement

Type 1 Diabetes In India: स्टडी का दावा, साल 2040 तक भारत में टाइप 1 डायबिटीज के मरीजों की संख्या हो जाएगी डबल, तेजी से फैल रही है यह बीमारी

शोधकर्ताओं के अनुसार, दुनियाभर में जिन 10 देशों में टाइप 1 डायबिटीज के मरीज सबसे अधिक हैं उनमें, अमेरिका, ब्राजील, चीन, जर्मनी और रूस के अलावा भारत भी शमिल हैं। इन 10 देशों में ही टाइप 1 डायबिटीज के लगभग 60 प्रतिशत मरीज (diabetes patients in the world) बसते हैं।

Type 1 Diabetes In India:भारत में डायबिटीज की बीमारी से पीड़ितों की संख्या को देखते हुए डॉक्टर्स और हेल्थ एक्सपर्ट्स द्वारा कई बार सचेत किया जाता रहा है। बता दें कि, दुनिया में भारत डायबिटीज के मरीजों की सर्वाधिक आबादी वाला दूसरा देश है। पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, दुनियाभर में साल 2021 में टाइप 1 डायबिटीज के कुल 84 लाख मरीज थे वहीं, अब अनुमान लगाया जा रहा है कि साल 2040 तक यह संख्या 13.5-17.4 मिलियन यानि 1.3 करोड़ और एक करोड़ 70 लाख तक पहुंच सकती है। इसका अर्थ है कि साल 2040 तक विश्व में डेढ़ करोड़ से अधिक लोगों को डायबिटीज की बीमारी हो सकती है। इस स्टडी के परिणाम दि लैंसेट डायबिटीज एंड एंडोक्राइनोलॉजी रिपोर्ट्स (The Lancet Diabetes & Endocrinology reports) में प्रकाशित किए गए थे।

इन देशों में डायबिटीज के मरीजों की संख्या सबसे अधिक

डायबिटीज एक मेटाबॉलिक सिंड्रोम है जो नसों में अत्यधिक मात्रा में ग्लूकोज (excessive amount of glucose circulating in the bloodstream) जमा होने के कारण होता है। डायबिटीज मुख्यत: 2 प्रकार का होता है जिसमें टाइप 1 डायबिटीज के मरीजों की संख्या टाइप 2 डायबिटीज की तुलना में कम होती है। शोधकर्ताओं के अनुसार, दुनियाभर में जिन 10 देशों में टाइप 1 डायबिटीजके मरीज सबसे अधिक हैं उनमें, अमेरिका, ब्राजील, चीन, जर्मनी और रूस के अलावा भारत भी शमिल हैं। इन 10 देशों में ही टाइप 1 डायबिटीज के लगभग 60 प्रतिशत मरीज (diabetes patients in the world) बसते हैं।

स्टडी के लेखर ग्राहम ओग्ले(Graham Ogle, one of the authors of the study, from the University of Sydney, Australia) कहना है कि हमारी स्टडी के परिणाम दुनियाभर के लोगों के लिए चेतावनी हैं। हेल्थ केयर सिस्टम और स्वास्थ्य इकाइयों को इस ओर ध्यान देने की आवश्यकता है। अभी भी हमारे पास समय है कि हम लोग समय रहते आवश्यक कदम उठाएं और टाइप 1 डायबिटीज के प्रति जागरूकता फैलाएं ताकि लाखों लोगों की जान बचायी जा सके।

Also Read

More News

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on