Advertisement

Migraine Vs Headache: माइग्रेन और सिरदर्द में क्या होता है फर्क, जानिए इनके लक्षण और उपचार

माइग्रेन का दर्द बहुत ही गंभीर होता है और यह सामान्य सिरदर्द से थोड़ा अलग होता है। माइग्रेन और सिरदर्द के बीच अंतर को समझने के लिए ये लेखा विस्‍तार से पढ़ें।

जब किसी के सिर में दर्द हो रहा होता है तब ये बता पाना मुश्किल हो जाता है कि आप सामान्‍य सिर दर्द से जूझ रहे हैं या माइग्रेन (अधकपारी) से पीड़ित हैं। क्‍योंकि, सिरदर्द और माइग्रेन के बीच अंतर स्‍पष्‍ट कर पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। मगर माइग्रेन और सिरदर्द के बीच फर्क (Migraine Vs Headache) को समझना हमारे लिए इसलिए भी महत्‍वपूर्ण क्‍योंकि इनके लक्षणों से दोनों के बीच अंतर को समझा जा सकता है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, लगभग 50% लोगों को कभी न कभी सिर दर्द होता है। आपको बता दें कि माइग्रेन और आम सिर दर्द को बहुत से लोग एक जैसा ही समझ लेते हैं लेकिन यह दोनों अलग अलग स्थितियां होती हैं और माइग्रेन एक लंबे समय तक चलने वाली क्रोनिक स्थिति है जिसमें आपको बहुत अधिक दर्द होता है और सिर दर्द इसका केवल एक लक्षण होता है। आज हम आपको बताएंगे इन दोनों के बीच फर्क और इसके लक्षण व उपचार क्‍या-क्‍या हैं।

माइग्रेन (अधकपारी) क्यों होता है?

माइग्रेन पेन की एक थ्योरी के अनुसार यह आपके मस्तिष्क के अंदर मौजूद एक्स्टेबल सेल्स की गतिविधियों की तरंगों के कारण उत्पन्न होता है। ऐसा होने के कारण सेरोटोनिन जैसे केमिकल्स ट्रिगर हो जाते हैं और इस वजह से आपकी ब्लड वेसल संकीर्ण हो जाती हैं। सेरोटोनिन एक ऐसा केमिकल होता है जो आपकी नर्व सेल्स के लिए आवश्यक होता है। जब सेरोटोनिन के लेवल आपके शरीर में बदलते हैं तो इससे आपको माइग्रेन जैसी स्थिति का सामना करना पड़ता है।

Also Read

More News

माइग्रेन के लक्षण (Symptoms of Migraine)

  • जी मिचलाना
  • उल्टियां आना
  • देखने में मुश्किल होना
  • शरीर के कुछ भागों का सुन्न होना।
  • सिर दर्द होना
  • सोचने में मुसीबत होना।
  • शरीर के एक साइड को मूव करते समय परेशानी होना।

माइग्रेन किन कारणों से होता है? जानिए

अगर आपको निम्न में से कोई परेशानी है तो आपको माइग्रेन हो सकता है:

  • महिलाओं में माइग्रेन अधिक होता है इसलिए अगर आप एक महिला हैं तो आपको इसका रिस्क अधिक है।
  • अगर आपके परिवार में पहले ही किसी को माइग्रेन है तो आपको भी यह हो सकता है।
  • अगर आपको मूड डिसऑर्डर या डिप्रेशन और एंक्साइटी है तो यह भी माइग्रेन का एक कारण हो सकते हैं।
  • सोने के कुछ डिसऑर्डर।

माइग्रेन के उपचार (Migraine Pain Treatment)

पेन रिलीवर : इसके अंदर आपको कुछ एंटी इन्फ्लेमेटरी दवाइयां दी जा सकती हैं जिनके कुछ उदाहरण हैं एस्पिरिन और आईबुप्रोफेन।

मेलाटोनिन : 2017 के दौरान हुई एक स्टडी यह साबित करती है कि मेलाटोनिन भी सिर दर्द के उपचार में प्रयोग की जा सकती है और यह बहुत हद तक प्रभावित भी होती है।

अगर आप डॉक्टर के पास जाते हैं तो वह आपको ऊपर लिखित कुछ दवाइयों से जुड़ा उपचार दे देंगे। अगर आप नही चाहते हैं कि आप अधिक दवाइयां खाएं और जल्द से जल्द ठीक हो जाएं तो आपको कुछ नॉन मेडिकल उपचारों को भी अपनाना चाहिए। आप इन्हें दवाइयों के साथ साथ भी जारी कर सकते हैं।

सिरदर्द (Normal Headache) के कारण और इलाज

सिरदर्द होने का मुख्य कारण तनाव, अत्यधिक शारीरिक और मानसिक श्रम, नींद की कमी, मोशन सिकनेस, ध्‍वनि प्रदूषण और गैजेट्स का अत्‍यधिक उपयोग सिरदर्द का कारण बन सकता है। कुछ अन्‍य कारण निम्‍नलिखित हैं:

  • अत्‍यधिक सोचना
  • पर्याप्‍त मात्रा में पानी न पीना
  • ज्‍यादा देर तक सोना
  • पेट साफ न होना
  • पेट में गैस बनना
  • सिर में रक्‍त प्रवाह की कमी

सिर दर्द और माइग्रेन में अंतर- Know Difference Between Headache and Migraine

सिर दर्द के दौरान आपको केवल कुछ ही समय तक सिर में, गर्दन में या उपरी शरीर में दर्द होता है जोकि कुछ दवाइयों के कारण तुरंत या कुछ समय के बाद अपने आप ही ठीक हो जाता है।

माइग्रेन एक हेडेक डिसऑर्डर है जोकि बहुत अधिक दर्दनाक हो सकता है। माइग्रेन के दौरान आपको सिर दर्द के मुकाबले बहुत ही भयानक लक्षण देखने को मिल सकते है और माइग्रेन में सिर दर्द केवल एक लक्षण होता है। हालांकि कुछ प्रकार के माइग्रेन में आपको सिर दर्द जैसे लक्षण नही देखने को मिलते हैं।

माइग्रेन के उपचार और घरेलू नुस्खे (Home Remedies to Cure Migraine)

  • रोजाना एक्सरसाइज करें।
  • अपनी डाइट में ऐसे बदलाव करें जिनसे आपको माइग्रेन के लक्षण अधिक न देखने को मिलें।
  • माइंडफुल ब्रैथिंग और मेडिटेशन जैसी रिलैक्स तकनीकों का प्रयोग करना।
  • स्ट्रेस मैनेजमेंट तकनीकों का प्रयोग करना।
  • अपने सिर दर्द को ट्रैक करने के लिए एक जर्नल बना कर रखें ताकि आप इसके पैटर्न का एक रिकॉर्ड रख सके और उसको डॉक्टर के पास दिखाएं।

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on