• हिंदी

माइग्रेन वालों को आज ही छोड़ देनी चाहिए ये 5 चीजें, दर्द में तुरंत मिलेगा आराम

माइग्रेन वालों को आज ही छोड़ देनी चाहिए ये 5 चीजें, दर्द में तुरंत मिलेगा आराम

माइग्रेन का सबसे बड़ा कारण है हमारी बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल। देर से सोना, टेंशन लेना, गलत खाना माइग्रेन के प्रमुख कारण हैं।

Written by Atul Modi |Updated : December 11, 2023 5:46 PM IST

माइग्रेन का दर्द कुछ लोगों के बड़ी परेशानी खड़ी कर देता है। आज के समय में अधिकांश लोग इस समस्या से जूझ रहे हैं। हमारे शरीर के साथ ही दिमाग को भी आराम करने का पूरा समय देना जरूरी है, लेकिन आज की बिजी लाइफ में लोग ऐसा नहीं कर पाते और माइग्रेन का शिकार हो जाते हैं। अध्ययन बताते हैं कि माइग्रेन से ग्रसित आधे से अधिक लोगों को सुबह 4 से 9 के बीच यह असहनीय सिरदर्द होता है। दरअसल, कम नींद के कारण माइग्रेन ट्रिगर होता है। ऐसे में जरूरी है कि आप कम से कम सात से आठ घंटे की अच्छी नींद जरूर लें। इसके अलावा भी माइग्रेन को कई बातें ट्रिगर करती हैं।

माइग्रेन के दर्द से कैसे बचें?

टेंशन दूर करने की करें कोशिश

अध्ययन बताते हैं कि माइग्रेन से पीड़ित करीब 70% लोग टेंशन को इस रोग का कारण मानते हैं, जो काफी हद तक सही भी है। आपका टेंशन माइग्रेन को ट्रिगर करता है। आज के समय में हर किसी की जिंदगी में अपने तनाव हैं, लेकिन कोशिश करें कि इन्हें खुद पर हावी न होने दें। योग और मेडिटेशन करके आप इस स्थिति से उभर सकते हैं। नियमित योग और मेडिटेशन का असर आपको कुछ ​ही दिनों नजर भी आने लगेगा।

लाइफस्टाइल में करें सुधार

माइग्रेन को हम लाइफस्टाइल डिजीज कह सकते हैं। क्योंकि यह हमारी बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल का ही नतीजा है। इसलिए नियमित रूप से एक्सरसाइज करें। दरअसल, एक्सरसाइज से हमारे शरीर से ऐसे कई पदार्थ बाहर निकलते हैं जो तनाव, डिप्रेशन और दर्द तीनों को कम या खत्म करते हैं। आपका ज्यादा वजन भी माइग्रेन का कारण हो सकता है। ऐसे में व्यायाम आपके वजन को भी नियंत्रित करेगा और आपको माइग्रेन से भी बचाएगा।

Also Read

More News

बनाएं अपनी माइग्रेन डायरी

कई बार गलत खानपान के कारण भी माइग्रेन ट्रिगर होता है। ऐसे में जरूरी है कि आप अपनी एक माइग्रेन डायरी बनाएं और इस बात को इसमें लिखें किे माइग्रेन से पहले आपने क्या खाया था। ऐसा करने से आपको अपनी माइग्रेन की हिस्ट्री पता रहेगी और आप ऐसी चीजों को खाने से बच सकते हैं, जिनके कारण आपको माइग्रेन होता है। कुछ लोगों को चॉकलेट, पनीर, दूध, दही, कैफीन, मीट, आर्टिफिशियल स्वीटनर आदि चीजों के कारण भी माइग्रेन होता है।

टाइम पर करें भोजन

गलत खाने के साथ ही गलत समय पर खाने से भी माइग्रेन की शिकायत हो सकती है। जी हां, अगर आप समय पर खाना नहीं खाएंगे या फिर आपने अपना ब्रेकफास्ट, लंच या डिनर मिस कर दिया है तो आशंका है कि आपको माइग्रेन हो सकता है। इसलिए अपना रूटीन बनाएं और निश्चित समय पर भोजन करें। सबसे जरूरी है डिनर टाइम निश्चित करना, क्योंकि देर से खाने से आपको नींद अच्छी नहीं आएगी और इसके कारण माइग्रेन हो सकता है।

बदलते मौसम में रखें ख्याल

मौसम भी आपके माइग्रेन को ट्रिगर करता है। बहुत ज्यादा गर्मी या सर्दी, या फिर तूफान आपके माइग्रेन का कारण बन सकता है। ऐसे में आपको बदलते मौसम के अनुसार खुद का ढालने के लिए तैयार रहना चाहिए। हर मौसम में अपनी बॉडी को हाइड्रेट रखें, भरपूर पानी पिएं। शोध बताते हैं कि माइग्रेन से पीड़ित एक तिहाई लोग डिहाइड्रेशन के कारण दर्द का शिकार होते हैं। अगर आपको महसूस हो रहा है कि आपको माइग्रेन होने वाला है तो सबसे पहले एक गिलास पानी पिएं।