Sign In
  • हिंदी

पुरुषों की सिर्फ 1 गलती से महिलाएं नहीं बन पाती हैं मां! जानिए क्या है कारण और उपचार

पुरुषों की सिर्फ 1 गलती से महिलाएं नहीं बन पाती हैं मां! जानिएं क्या है कारण और उपचार

पुरुषों के पिता ना बनने की परिस्थिति को मेल इनफर्टिलिटी करहते हैं। अगर साधारण भाषा में समझें, तो इनफर्टिलिटी का अर्थ है स्पर्म का उत्पन्न सही से ना हो पाना या फिर स्पर्म काफी कमजोर होना हाता है। इसकी वजह से पति के कारण पत्नी को संतान सुख प्राप्त नहीं हो (Male Infertility) पाता है।

Written by Kishori Mishra |Updated : October 10, 2020 11:48 AM IST

Male Infertility : हर महिला के लिए मां बनना बहुत ही अनोखा अनुभव होता है, लेकिन कई बार महिलाओं को मां बनने में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा कुछ महिलाएं लाख परेशानियां सहने के बावजूद मां नहीं बन पाती हैं और इसका जिम्मेदार वो खुद को ठहरा देती हैं। लेकिन आपको बता दें कि मां ना बनना सिर्फ आपकी गलती नहीं, बल्कि इसके पीछे पिता भी कारण हो सकते हैं। दरअसल, पुरुषों में इनफर्टिलिटी एक ऐसी प्रमुख वजह है, जिसके कारण महिलाएं मां नहीं बन पाती हैं। वहीं, इसके साथ ही पुरूषों में स्खलित शुक्राणु (Herring Sperm) कम हो या फिर गुणवत्ता में कमी के कारण महिलाएं मां (Male Infertility) नहीं बन पाती हैं।

पुरुष इनफर्टिलिटी क्या है? (Male Infertility)

पुरुषों के पिता ना बनने की परिस्थिति को मेल इनफर्टिलिटी करहते हैं। अगर साधारण भाषा में समझें, तो इनफर्टिलिटी का अर्थ है स्पर्म का उत्पन्न सही से ना हो पाना या फिर स्पर्म काफी कमजोर होना हाता है। इसकी वजह से पति के कारण पत्नी को संतान सुख प्राप्त नहीं हो (Male Infertility) पाता है।

इनफर्टिलिटी के प्रकार

  • खराब गुणवत्ता वाले स्पर्म
  • स्पर्म का आकार सही ना होना
  • स्पर्म काउंट कम होना।

पुरुष बांझपन के लक्षण

  • हार्मोंन का अंतुलित होने के कारण भी पुरुषों में इनफर्टिलिटी की समस्या होती है। ऐसे में समय रहते इलाज की आवश्यकता होती है।
  • खराब जीवनशैली के कारण भी पुरुषों में बांझपन की शिकायत हो सकती है। अधिक धूम्रपान और शराब का सेवन करने से इनफर्टिलिटी की परेशानी हो सकती है।
  • सूंघने की क्षमता कमजोर होना भी इसके लक्षण हो सकते हैं। अगर आपके सूंघने की शक्ति कमजोर हो गई है, तो फौरन डॉक्टर्स से संपर्क करें।

क्या हैं इसके उपचार

  • दवाओं के जरिए संक्रमण को दूर किया जा सकता है।
  • इसके साथ ही स्पर्म काउंट बढ़ाने की दवाएं भी उपबल्ध हैं।
  • जीवनशैली में बदलाव और संतुलित आहार के लिए भी आप इनफर्टिलिटी की समस्या को कम कर सकते हैं।

क्या आपको भी सर्दियों में होने लगता है जोड़ों में दर्द? जानें इसके कारण और घरेलू उपचार

Also Read

More News

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का निधन, दो बार हुई थी हार्ट सर्जरी

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on