Sign In
  • हिंदी

Male Infertility: स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए खाएं ये 4 चीज़ें, मेल इंफर्टिलिटी से मिलेगी राहत

स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल और किसी लम्बी बीमारी भी लो-स्पर्म काउंट की समस्या का कारण बनते है।

स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल और किसी लम्बी बीमारी भी लो-स्पर्म काउंट की समस्या का कारण बनते है। तो वहीं, कई पोषक तत्वों की कमी, फ्री-रैडिकल्स से नुकसान जैसे कारणों का भी असर फर्टिलिटी पर पड़ता है। लेकिन, समय पर डॉक्टर की मदद और सही लाइफस्टाइल से इस परेशानी से राहत  भी पायी जा सकती है।  

Written by Editorial Team |Published : December 9, 2019 7:02 PM IST

लो स्पर्म काउंट ( Low Sperm Count) या मेल इंफर्टिलिटी ( Male Infertility) की समस्या पुरुषों को पिता बनने से रोक सकती है। ( Food to boost sperm count) स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल और किसी लम्बी बीमारी की वजह से भी कई बार इस समस्या का कारण बनती है। लेकिन, समय पर डॉक्टर की मदद और सही लाइफस्टाइल से इस परेशानी से राहत  भी पायी जा सकती है।

फर्टिलिटी बूस्ट करने के लिए खाए जाते हैं ये 5 फूड्स ( Food to boost sperm count)

गाजर:

विटामिन ए की कमी को इंफर्टिलिटी ( Male Infertility) की समस्या का एक मुख्य कारण माना जाता है। इसीलिए, विटामिन ए से भरपूर भोजन करें। गाजर ( Food to boost sperm count) और बीटरूट जैसी सब्ज़ियां विटामिन ए के सबसे स्रोत हैं। इन्हें, अपनी डायट में शामिल करें।

डार्क चॉकलेट( Food to boost sperm count):

इनमें,  ऐसे एंटी-ऑक्सिडेंट्स मौजूद होते हैं, जो फ्री-रैडिकल्स से सुरक्षा प्रदान करते हैं। गौरतलब है कि, फ्री-रैडिकल्स के प्रभाव को इंफर्टिलिटी की एक वजह माना जाता है। जैसा कि,  कई स्टडीज़ में यह बात साबित भी की गयी है कि डार्क चॉकलेट में एक विशेष प्रकार का एमिनो एसिड पाया जाता है। यह तत्व, स्पर्म काउंट ( Low Sperm Count) को बढ़ाने का काम करता है। ( Male Infertility)

Also Read

More News

 डार्क चॉकलेट खाने से नहीं होता पिम्पल, जानें स्किन के लिए डार्क चॉकलेट खाना क्यों है फायदेमंद।

लहसुन:

इस बहुमुखी मसाले में ( Food to boost sperm count)एलिसिन और सेलेनियम जैसे तत्व पाए जाते हैं। ये दोनों ही तत्व सेक्सुअल ऑर्गन्स की तरफ रक्त के संचार को बेहतर बनाते हैं। इससे स्पर्म काउंट बढ़ने और स्पर्म मोटिलिटी बढ़ाने में मदद होती है।

Healthy Eating: व्रत के दौरान प्याज़-लहसुन क्यों नहीं खाते, क्या कहता है आयुर्वेद!

जिनसेंग:

इस जड़ी-बूटी को आयुर्वेद में इंफर्टिलिटी की औषधि बताया गया है। जिनसेंग को चाय में मिलाकर पीने या इसके पाउडर को फांकने की सलाह आयुर्वेदिक एक्सपर्ट्स देते रहे हैं। इसके,  सेवन से  स्पर्म काउंट बढ़ता है और ब्लड सर्कुलेशन में भी सुधार होता है।

यह भी पढ़ें- Tea Tree Oil Benefits: सर्दियों में टी-ट्री ऑयल लगाने के फायदे हैं कई, विंटर रैशेज़, पिम्पल्स और डैंड्रफ की समस्या होगी दूर।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on