Advertisement

जानें पुरुषों के लिए कितना फायदेमंद है टमाटर और अन्य चीजों में पाया जाने वाला लाइकोपीन

यह कैंसर जैसी घातक बीमारियों और स्थितियों की रोकथाम में भी मदद कर सकता है। © Shutterstock

यह कैंसर जैसी घातक बीमारियों और स्थितियों की रोकथाम में भी मदद कर सकता है।

लाइकोपीन कैंसर-निवारक फाइटोन्यूट्रिएंट है। यह एंटीऑक्सीडेंट आमतौर पर टमाटर में पाया जाता है, लेकिन आप इसे कई सामान्य फलों और सब्जियों से भी प्राप्त कर सकते हैं। लाइकोपीन पोषक तत्वों में राजा है। यह कैंसर जैसी घातक बीमारियों और स्थितियों की रोकथाम में भी मदद कर सकता है।

लाइकोपीन क्या है

लाइकोपीन एक फाइटोन्यूट्रिएंट है। फाइटोन्यूट्रिएंट प्लांट लाइफ में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट हैं। ये पोषक तत्व मूल रूप से मानव शरीर द्वारा नहीं बनाए जाते हैं, बल्कि प्लांट द्वारा उत्पादित होते हैं। यह टमाटर, तरबूज, पपीता और गुलाबी अंगूर जैसे फलों और सब्ज़ियों को लाल रंग देता है। यह एक वसा घुलनशील पोषक तत्व है।

Also Read

More News

यह भी पढ़ें - मेटाबॉलिज्‍म है कमजोर, तो डायट में शामिल करें ये आहार

शुक्राणुओं की संख्या को बढ़ाने में करता है मदद 

शोध दर्शाता है कि लाइकोपीन से समृद्ध खाद्य पदार्थों और पुरुषों के बीच शुक्राणुओं की संख्या के बीच एक उच्च सहसंबंध। पुरुषों को नियमित रूप से इसका सेवन करना चाहिए। वैसे पुरुषों के बीच बांझपन को ठीक करने में लाइकोपीन के प्रभाव देखने के लिए अनुसंधान किया जा रहा है।

चूंकि लाइकोपीन शक्तिशाली फ्री रेडिकल्स स्कावेन्गिंग क्षमता वाला एक ज्ञात एंटीऑक्सीडेंट है, यही कारण है कि यह कंपाउंड शुक्राणु स्वास्थ्य को बढ़ाने में मदद कर सकता है। हालांकि, अभी यह कितना प्रभावी है इसे निर्धारित करने की आवश्यकता है। इसलिए पुरुषों को अपने आहार में टमाटर शामिल करना जारी रखना चाहिए ताकि उनके शरीर को लाइकोपीन मिले सके।

पुरुषों में हड्डी को मजबूत करे लाइकोपीन

विटामिन के और कैल्शियम ही एकमात्र चीज नहीं हैं जो आपकी हड्डियों को मजबूत रखती हैं। लाइकोपीन भी हड्डियों में ऑक्सीडेटिव तनाव से छुटकारा पाने में मदद करता है जो भंगुर और कमजोर हड्डी की संरचना का कारण बनता है। इसलिए पुरुषों को लाइकोपीन वाले आहार का सेवन करना चाहिए। यह एपोप्टोसिस (कोशिका मृत्यु) को धीमा करता है जो हड्डियों को कमजोर बनाता है और हड्डियों के सेलुलर आर्किटेक्चर को मजबूत करता है।

[caption id="attachment_615603" align="alignnone" width="655"]tomato लाइकोपीन एक फाइटोन्यूट्रिएंट है। फाइटोन्यूट्रिएंट प्लांट लाइफ में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट हैं। © Shutterstock[/caption]

यह भी पढ़ेें –विशेष अवसरों पर करते हैं हवन, तो जान लें इसके फायदे

पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर को रोके लाइकोपीन

प्रोस्टेट कैंसर को पुरुषों में शीर्ष तीन कैंसर में से एक माना जाता है। आज विश्‍व के सभी देशों के पुरुषों में प्रोस्‍टेट कैंसर के मरीजों की संख्‍या बढ़ रही है। प्रोस्टेट कैंसर को संभवतः लाइकोपीन के स्वस्थ सेवन से रोका जा सकता है। प्रोस्टेट कैंसर से पहले से पीड़ित लोगों के लिए कैंसर कोशिका प्रसार को कम करने और नियंत्रित करने के लिए सर्जरी से पहले एक लाइकोपीन समृद्ध आहार निर्धारित किया जाता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद है लाइकोपीन

लाइकोपीन डायबिटीज के मरीजों के लिए लाभकारी है। हालांकि इस क्षेत्र में अभी भी शोध जारी है। आपको बता दें कि लाइकोपीन को रक्त ग्लूकोज के स्तर को कम करके और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के माध्यम से ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करके टाइप 2 मधुमेह के उपचार में कुछ सकारात्मक लाभ पाए गए हैं।

पुरुषों में इम्यून सिस्टम को बढ़ाए

पुरुषों के लिए लाइकोपीन लाभ में एक लाभ यह है कि इससे शरीर में इम्यून सिस्टम को मजबूत किया जा सकता है।  लाइकोपीन शरीर की रक्षा तंत्र या प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए एक दवा है। प्रतिरक्षा प्रणाली या इम्यून सिस्टम को लाइकोपीन द्वारा सूक्ष्मजीवों के कारण बीमारी को नष्ट करने में तेजी से कार्य करने के लिए संयोजित किया जाता है।

यह भी पढ़ें – जानें क्‍या है जूस क्लिंज, कैसे करता है सेहत पर असर

दिल के स्वास्थ्य में सुधार करे लाइकोपीन

ब्लड स्ट्रीम में लाइकोपीन का उच्च स्तर मेटाबोलिक सिंड्रोम वाले लोगों में कम मृत्यु दर से जुड़े होते हैं। मेटाबोलिक सिंड्रोम विकारों का एक संयोजन है जो दिल की बीमारी, उच्‍च ब्लड शुगर और मोटापे का कारण बनता है। लाइकोपीन समृद्ध भोजन, यदि नियमित रूप से लिया जाता है, तो यह एलडीएल कोलेस्ट्रॉल (खराब कोलेस्ट्रॉल) के ऑक्सीकरण को रोकता है।

स्ट्रोक के खतरे को करे कम

लाइकोपीन से समृद्ध खाद्य पदार्थ स्ट्रोक के खतरे को कम कर सकता है। लाइकोपीन के एंटीऑक्सीडेंट गुण आपको खून के थक्के के गठन से बचाता है, जो स्ट्रोक के पीछे का मुख्य कारण हैं। इसके अलावा, लाइकोपीन में मस्तिष्क के अंदर रक्त वाहिकाओं पर एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव डालता है, जो स्ट्रोक के खिलाफ सुरक्षा के रूप में भी कार्य करता है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on