Advertisement

बाहर नहीं बच्चों के घर के अंदर भी एलर्जी का खतरा! जानिए कौन सी एलर्जी कर सकती है परेशान और उसके लक्षण

मानसून की बारिश हो या फिर आपना कोई जानवर पाला हो ऐसे बहुत से कारक हैं, जो आपको एलर्जी का शिकार बना सकते हैं साथ ही आपको और आपके बच्चों के लिए बहुत सारी समस्याएं पैदा कर सकते हैं।

एलर्जी किसी के लिए भी परेशानी का सबब बन सकती है फिर चाहे वह बड़ा हो या बच्चा। बहुत से लोग सोचते हैं कि घर से बाहर निकलने पर एलर्जी होने का खतरा होता है लेकिन ऐसा नहीं है। बड़े न सही लेकिन बच्चों के लिए ये बात को बिल्कुल भी जायज नहीं ठहरती। बच्चों को घर के भीतर होने वाली एलर्जी बेहद आम है और तेजी से फैलने वाली समस्या भी। मानसून की बारिश हो या फिर आपना कोई जानवर पाला हो ऐसे बहुत से कारक हैं, जो आपको एलर्जी का शिकार बना सकते हैं साथ ही आपको और आपके बच्चों के लिए बहुत सारी समस्याएं पैदा कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि घर में ऐसी कौन सी चीजे हैं, जो बच्चों को एलर्जी का शिकार बना सकती हैं।

आखिर क्या वजह है इंडोर एलर्जी का?

इंडोर एलर्जी बहुत ही आम है और इससे आपकी नाक बहना शुरू हो सकती है साथ ही आपकी आंखों में पानी आ सकता है और आपको छींक भी आ सकती है। जब कोई व्यक्ति इन एलर्जी के संपर्क में आता है, तो उसका इम्यून रिस्पॉन्स बढ़ जाता है, जिससे सूंघने और छींकने लगते हैं। हालांकि, कई चीजें इन एलर्जी प्रतिक्रियाओं का कारण बन सकती हैं।

मोल्ड

मोल्ड या फफूंद एक प्रकार का फंगस है, जो बाथरूम और बेसमेंट जैसे नम क्षेत्रों में तेजी से बढ़ता है। ये फंगस हवा में छोटे-छोटे बीजाणुओं को रिलीज करता है, जो अपनी गिनती बढ़ाते जाते हैं और आपके बच्चों के सांस लेने पर एलर्जीका कारण बन सकते हैं।

डस्ट माइट्स

डस्ट माइट्स एक प्रकार के छोटे सूक्ष्मजीव होते हैं, जो घर की धूल में पनपते हैं। जब आपका बच्चा सांस लेता है, तो ये धूल के कण आपके बच्चे के छींकने का कारण बन सकते हैं। ये घर के गर्म, आर्द्र वातावरण में बहुत तेजी से ब़ढ़ते हैं और कालीन, गद्दे, कपड़े आदि के नीचे छीपे होते हैं।

पालतू जानवरों की रूसी

अगर आपने कोई जानवर पाला हुआ है तो आपको पता होना चाहिए कि उसकी रूसी आपके बच्चे के एलर्जी का कारण बन सकती है। पालतू जानवरों की रूसी त्वचा के छोटे-छोटे कण होते हैं जो जानवरों के फर या पंखों से निकलते हैं। ये बच्चों में गंभीर एलर्जी का कारण बन सकते हैं।

एलर्जी के अन्य लक्षण

घर में मौजूद इन एलर्जी के कारणों से आपको कई लक्षण दिखाई दे सकते हैं। एलर्जी होने पर बच्चों में कई शारीरिक लक्षण दिखाई दे सकते हैं, जिसमें से कुछ इस प्रकार हैं।

- नाक का बहना और भरी हुई नाक

- खांसी

- छींक आना

- खुजली और आंख से पानी आना

- चकत्ते

- सांस लेने में कठिनाई

इस बात का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है कि गंभीर एलर्जी होने पर आपको आपातकालीन चिकित्सा सहायता लेने की जरूरत है।

एलर्जी का निदान

एलर्जी का पता कुछ सामान्य टेस्ट से लगाया जा सकता है। पहला होता है स्किन प्रिक टेस्ट, जिसमें डॉक्टर या नर्स आपकी त्वचा पर संभावित एलर्जी के कारणों का पता लगाने के लिए सुई से टेस्ट करते हैं। अगर कुछ रिस्पॉन्स निकलता है तो डॉक्टर आपकी स्थिति की पुष्टि कर देगा।

इसके अलावा एक इंट्राडर्मल टेस्ट होता है, जिसमें त्वचा में थोड़ी मात्रा में एलर्जेन का सीधा इंजेक्शन शामिल लगाया जाता है। इसके नतीजे से आपका डॉक्टर आपको वजह बता सकता है।

अंत में, आप पैच टेस्ट करा सकते हैं, जिसमें एलर्जेन 48 घंटों के लिए त्वचा से जुड़ा रहता है। इस प्रकार के परीक्षण का उपयोग आमतौर पर संपर्क जिल्द की सूजन का पता लगाने में किया जाता है।

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on