Advertisement

डायबिटीज से बचना है तो हर साल कीजिये हेल्थ चेकअप!

डायबिटीज हो या ना हो हेल्थ चेकअप करने से डायबिटीज से होने वाली परेशानी होती है कम !

भारत में डायबिटीज होने का खतरा बढ़ता जा रहा हैं। 12 लोगों में से 1 व्यक्ति प्री डायबिटीज का शिकार होते है।  डॉ. प्रदीप गाडगे, डायबिटोलॉजिस्ट गाडगे, डायबिटीज सेंटर मुंबई, का कहना है कि भारत के बडे शहरों में 8 में से 1 व्यक्ति डायबिटीज का शिकार होते है। हालाँकि में मिले आंकडों के अनुसार 5 में से 1 मुंबईकर भी डायबिटीज का शिकार हैं। इसका मतलब ये है की घर के एक सदस्य को डायबिटीज हैं या आपके पड़ोसी को डायबिटीज है। इन आंकडों पर नजर डाले तो आपको डायबिटीज लक्षण दिखते ही तुरंत टेस्ट कर लेना चाहिये। और अगर आपको टेस्ट में पता चला डायबिटीज है तो आपको हर साल चेकअप करना जरूरी हैं। क्योंकि आपको डायबिटीज की वजह से आपको कई बीमारियों के होने का खतरा हो सकता है, ऐसा डॉ. प्रदीप गाडगे कहते है।

डायबिटीज बढ़ जाए तो हम उसे कम करने के पीछे लग जाते है, मगर हम उससे जुड़े बाकी समस्याओं को नजरअंदाज करते है, जैसे की कोलेस्टेरोल, ब्लड प्रेशर और यूरीक एसिड। डायबिटीज होने वाले लोगों को रिपोर्ट देखकर लगता है, हम डायबिटीज को कंट्रोल कर लेंगे बात बन जायेगी। मगर ज्यादातर डायबिटीक्स इस बात से अंजान होते हैं कि डायबिटीज मतलब सिर्फ ब्लड ग्लुकोज का बढ़ना नहीं होता है। डायबिटीज होने पर आपको बाकी का भी चेकअप करना भी जरूरी होता है। लिपिड प्रोफाइल, क्रेटीनाइन लेवल, यूरीक एसिड, एसजीपीटी और फैटी लीवर ये सारी चीजें भी चेक करना जरूरी है। भारत में ज्यादातर लोगों का लीवर खराब होने का कारण फैटी लीवर इसके मरीज बढ़ते ही जा रहे है। लीवर डोनेट करने वालों को रिजेक्शन मिलने कारण भी यहीं है। फैटी लीवर ये खतरनाक बीमारी नहीं है मगर अल्कोहोलीक या नॉन अल्कोहोलीक डिजीज की वजह इसके आकडे बढते जा रहे है। और आखिर  में ये सिरॉसिस के स्टेज तक पहुचता है, इसमे लीवर की हालत बहुत खराब हो जाती है।

जिन लोगों का डायबिटीज कंट्रोल होता है उनको सेहत बहुत सारी परेशानियां होती है। इसलिये डायबिटीज होने पर सिर्फ ग्लुकोज की लेवल पर ध्यान मत दीजिये, बाकी सेहत की बीमारियों पर भी ध्यान दीजिये।

Also Read

More News

Read this English

अनुवादक Sushantdeep Sagvekar 

चित्र स्रोत: Shutterstock

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on