Sign In
  • हिंदी

क्या विटामिन-ई के सेवन से हार्ट अटैक का खतरा कम होता है ?

विटामिन ई का हार्ट हेल्थ पर पड़ने वाला प्रभाव। ©Shutterstock.

खान-पान में अगर विटामिन, मिनरल्स पर्याप्त मात्रा में नहीं होते हैं तो शरीर पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ता है और इंसान का दिल बीमार होने लगता है।

Written by akhilesh dwivedi |Updated : January 30, 2019 10:58 AM IST

बदलती जीवनशैली और बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण के कारण वर्तमान समय में हेल्थ का विशेष ख्याल रखना बेहद जरूरी हो गया है। हार्ट अटैक वर्तमान समय की सबसे ज्यादा लोगों को होने वाली बीमारी बन रही है।

हार्ट की बीमारी के कई कारण होते हैं लेकिन मुख्य रूप से डाइट और फिटनेस ही ज्यादा असर डालते हैं। खान-पान में अगर विटामिन, मिनरल्स पर्याप्त मात्रा में नहीं होते हैं तो शरीर पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ता है और इंसान का दिल बीमार होने लगता है।

सर्दी में विटामिन-ई कैप्सूल का कैसे इस्तेमाल करें ?

Also Read

More News

हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के विशेषज्ञों के अनुसार जो लोग पर्याप्त मात्रा में विटामिन-ई (Vitamin-E) का सेवन करते हैं उनमें हार्ट अटैक की संभावना कम हो जाती है। अगर विटामिन ई का सेवन दिन में 100 आईयू रहता है तो हार्ट के रोगों की संभावना 38 प्रतिशत कम हो जाती है।

हार्ट अटैक की संभावना उन लोगों में ज्यादा होती है जो फिटनेस को लेकर लापरवाह तो होते ही है साथ में वो अपने खान-पान पर भी विशेष ध्यान नहीं देते हैं। वर्तमान समय में विश्व के तमाम देशों में लोगों के अंदर विटामिन की कमी की वजह से कई तरह के रोग हो रहे हैं।

सर्दी के मौसम में विटामिन ई का सेवन क्यों है जरूरी ? जानें कारण और विटामिन ई के मुख्य स्रोत।

अगर अपने हार्ट को फिट और यंग रखना है तो विटामिन ई का सेवन रोजाना की डाइट में जरूर करना चाहिए। इसके लिए आप जरूरी हो तो सप्लीमेंट का सेवन कर सकते हैं अन्यथा अप विटामिन ई वाले फूड को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।

विटामिन ई वाले फूड 

[caption id="attachment_644276" align="alignnone" width="655"]vitamin-e-Food-in-hindi विटामिन-ई से भरपूर खाद्य पदार्थ। ©Shutterstock.[/caption]

सामान्यतया विटामिन ई हरी सब्जी और फल में पाया जाता है। सुखे मेवे में भी पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई पाया जाता है। हम यहां पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई वाले खाद्य पदार्थों को सूचीबद्ध करते हैं। विटामिन ई की कमी के 4 लक्षण।

बादाम

मूंगफली

अखरोट

सूरजमुखी का तेल

गेहूं

सोयाबीन

मक्का

पेट का मोटापा कम करने और रात में बेहतर नींद के लिए कब और कौन सी एक्सरसाइज करनी चाहिए ?

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on