Advertisement

क्या आपको इनफर्टिलिटी की समस्या है? अगर हां तो तुंरत बदल लें ये 5 आदतें, न​​हीं होगी कंसीव करने में दिक्कत

क्या आपको इनफर्टिलिटी की समस्या है? अगर हां तो तुंरत बदल लें ये 5 आदतें, न​​हीं होगी कंसीव करने में दिक्कत

क्या आप इनफर्टिलिटी का सामना कर रहे हैं? अगर हां तो आप अकेले नहीं हैं। बता दें कि ​करीब 15 प्रतिशत कपल ऐसे हैं जो इनफर्टिलिटी की समस्या का सामना कर रहे हैं। इनफर्टिलिटी उस स्थिति को कहते हैं जब लंबे समय तक सेक्स करने के बाद भी कोई कपल कंसीव नहीं कर पाता है। बार बार मिसकैरेज होना और गर्भ में ही शिशु का मर जाना भी इनफर्टिलिटी कहलाता है।

क्या आप इनफर्टिलिटी का सामना कर रहे हैं? अगर हां तो आप अकेले नहीं हैं। बता दें कि ​करीब 15 प्रतिशत कपल ऐसे हैं जो इनफर्टिलिटी की समस्या का सामना कर रहे हैं। इनफर्टिलिटी उस स्थिति को कहते हैं जब लंबे समय तक सेक्स करने के बाद भी कोई कपल कंसीव नहीं कर पाता है। बार बार मिसकैरेज होना और गर्भ में ही शिशु का मर जाना भी इनफर्टिलिटी कहलाता है। माता पिता न बन पाने के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। आज इस लेख में हम आपको 5 ऐसी बातें बता रहे हैं जो इनफर्टिलिटी के शिकार लोगों को जरूर फॉलो करनी चाहिए।

किसी चमत्कार का इंतजार न करें

अगर आप बहुत समय से या सालोंं से कंसीव करने का ट्राई कर रहे हैं लेकिन हो नहीं पा रहा है तो किसी चमत्कार का इंतजार करने के बजाय डॉक्टर से संकर्प करें। कई बार शरीर में ऐसी दिक्कतें हो जाती हैं जिनका समाधान सिर्फ डॉक्टर कर सकते हैं। इसलिए इनफर्टिलिटी का असली कारण जानने के लिए फर्टिलिटी टेस्ट कराना बहुत जरूरी है।

Also Read

More News

खुद को दोष देना बंद करें

इनफर्टिलिटी के कई ऐसे कारण हैं जो हमारे हाथ में नहीं होते हैं। इसके बावजूद अगर आप इस चीज के लिए खुद को कोसते हैं तो ये गलत है। ऐसा करने से तनाव बढ़ेगा जिससे आपकी शारीरिक और मानसिक हेल्थ प्रभावित होगी। ऐसे में आपकी इनफर्टिलिटी की प्रॉब्लम में सुधार होने के बजाय वह और भी ज्यादा खराब हो सकती है। इसलिए अपनी एनर्जी का सही दिशा में इस्तेमाल करें ताकि आपकी ये प्रॉब्लम सही हो सके।

आशा न छोड़ें

इनफर्टिलिटी की समस्या आजकल जैसे आम हो गई है। इसलिए यह सोचना छोड़ दें कि आप ऐसे अकेले हैं। आपको आशाहीन होने के बजाय उम्मीद रखनी चाहिए कि आप भी कंसीव करेंगी। आपको यह नहीं भूलना चाहिए ​कि आप बिना बच्चे को जन्म दिए भी माता पिता बन सकते हैं। हालांकि इस स्थिति में ये बच्चा आपके द्वारा जन्मा नहीं होगा, लेकिन आप किसी बच्चे को गोद लेकर और उसे अच्छे संस्कार देकर अपने जैसा बना सकता है। इसके साथ ही आप एग डोनर, स्पर्म डोनर और एम्ब्रो डोनर जैसी अन्य संभावनाएं भी आपके पास हैं। इसलिए आशाहीन होने के बजाय आप उन चीजों के बारे में सोचे जिनसे आपको उम्मीद मिल सकती है।

pregnancy

सिर्फ कंसीव करने के लिए अपने पार्टनर के साथ सोना छोड़ दें

जब कोई इनफर्टिलिटी का शिकार होता है तो उसकी सेक्स के प्रति रुचि कम हो जाती है। जब आप सिर्फ कंसीव करने की मंशा से अपने पार्टनर के साथ सोएंगे तो जाहिर है कि आपका उनमें इन्टरेस्ट कम हो जाएगा। सेक्स करने का मकसद सिर्फ बेबी पैदा करना नहीं होता है बल्कि इससे आपका स्ट्रेस दूर होता है और आप अच्छा महसूस करते हैं। इसलिए अब आप जब भी अपने पार्टनर के साथ सोएं तो उस पल को पूरी तरह से इन्ज्वॉय करें।

खुद को नजरअंदाज न करें

अगर आप ये सोचकर खुद को लगातार नजरअंदाज कर रही हैं कि कंसीव न कर पाने में पूरी तरह से आप दोषी हैं तो शायद आप गलत हैं। इस वक्त आपको खुद को इग्नोर करने के बजाय अपनी हेल्थ पर ध्यान देना चाहिए। आपको अपने खानपान और लाइफस्टाइल को लेकर अधिक सीरियस होने की जरूरत है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on