Advertisement

हाई ब्लड प्रेशर की दवा लेने वालों से अपील, जान लें इनसे होने वाले नुकसान भी!

ब्लड प्रेशर के मरीज इसे जरूर पढ़ें। जनरल फिज़िशियन डॉक्टर नीरज कुमार तुलारा ने हमें ऐसी ही एक बीमारी हाई ब्लड प्रेशर में ली जाने वाली दवाओं के साइड इफेक्ट्स के बारे में बताया

Read in English

अनुवादक – Shabnam Khan

कितनी परेशान करने वाली बात है कि जो दवाएं आप अपनी किसी बीमारी को दूर करने के लिए खाते हैं, उसी दवा से आपको कोई और बीमारी होने लगे। जेनरल फिज़िशियन डॉक्टर नीरज कुमार तुलारा ने हमें ऐसी ही एक बीमारी हाई ब्लड प्रेशर में ली जाने वाली दवाओं के साइड इफेक्ट्स के बारे में बताया।

Also Read

More News

ब्लड प्रेशर के लिए आम दवाएं

बेटा ब्लॉकर, कैल्शियम चैनल ब्लॉकर, लिसिनोप्रिल (lisinopril), लोसार्टन (losartan) और मेटोप्रोलोल (metoprolol) आदि ब्लड प्रेशर की आम दवाएं हैं।

 ब्लड प्रेशर की दवाओं के साइड इफेक्ट

हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए लिए जाने वाले कैल्शियम चैनल ब्लॉकर से पैरों के निचले हिस्से में सूजन आ सकती है। इस स्थिति में ली जाने वाली ये सबसे आम दवा है। पैरों में सूजन के अलावा सिरदर्द और चक्कर भी आते हैं।

लिसिनोप्रिल हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने वाली एक दूसरी दवा है। अगर आपको किडनी या लीवर से जुड़ी कोई भी बीमारी है तो आपको ये दवा नहीं लेनी चाहिए। इसे खाने से खांसी, सिरदर्द और चक्कर जैसी दूसरी समस्याएं हो सकती है।

मेटोप्रोलोल एक बेटा ब्लॉकर है जो हाई ब्लड प्रेशर में ली जाती है। ये दिल की धड़कन को कम कर देती है इसलिए ये दवाई उन लोगों को नहीं खानी चाहिए जिन्हें दिल की बीमारी है या सर्कुलेशन प्रॉब्लम है। इस दवा को खाने से चक्कर आना, बेहोशी, खांसी और अनिद्रा जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

लोसार्टन (Losartan) हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल करती है लेकिन ये दवाई प्रेगनेंट महिलाओं या किडनी के मरीजों को नहीं लेनी चाहिए। इसके अलावा, इस दवाई को खाने से आपको सर्दी जुकाम, पेट दर्द और सिरदर्द हो सकता है।

ओल्मेसर्टन भी इसी समस्या के लिए ली जाने वाली एक दवा है। इसे प्रेगनेंसी के दौरान लेने से बिल्कुल बचना चाहिए। ये हमारे गर्भ को नुकसान पहुंचा सकती है। इसे खाने से कमज़ोरी, चक्कर आना और एलर्जी जैसी समस्याएं हो सकती है।

ब्लड प्रेशर की दवाओं के साइड इफेक्ट से कैसे बचें?

साइड इफेक्ट से बचने के लिए दवाओं के कॉम्बीनेशन बदले जा सकते हैं। आपके लिए ये सबसे ज्यादा जरूरी है कि डॉक्टर की सलाह से ही दवा लें। मुमकिन है डॉक्टर दवा की डोज कम करें और ब्लड प्रेशर की दवा का असर कम करने के लिए दवा दे।

चित्र स्रोत - Shutterstock


Total Wellness is now just a click away.

Follow us on