Advertisement

Coconut Oil: डायबिटिक्स के लिए बेहतरीन है नारियल के तेल का सेवन , ब्लड शुगर लेवल को करता है नियंत्रित

If your blood glucose levels are too high, pregnancy can worsen certain long-term diabetes problems, such as eye problems and kidney disease.

ऐसी कई स्टडीज़ हैं जो, ये दर्शाती हैं कि नारियल के तेल का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल्स को मैनेज करना आसान हो जाता है। इसके, सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल्स को भी नियंत्रित करना आसाव हो जाता है। इसीलिए गुड कोलेस्ट्रॉल लेवल मे बढ़ोतरी और बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल में कमी देखी जाती है।

नारियल के तेल (Coconut Oil and Diabetes) के फायदों के कारण यह अब धीरे-धीरे कूकिंग के लिए पॉप्युलर हो रहा है। भारत के तटीय इलाकों खासकर, केरल में खाना  बनाने के लिए नारियल के तेल का काफी इस्तेमाल होता रहा है। यह वहां, घर-घर में चटनी, सब्ज़ियों, करी और विभिन्न डिशेज़ को तैयार करने के लिए प्रयोग किया जाता है। लेकिन, यह हाई ब्लड शुगर लेवल या डायबिटीज़ मैनेजमेंट में भी  मदद करता है। (Coconut Oil and Diabetes)

Weight Loss Tip: रोज़ पीएं ढेर सारा पानी, होगा वेट लॉस जल्दी, जानें दिन में कितना पानी पीने से होगा वज़न कम

डायबिटिक्स  के लिए बेहतरीन है नारियल के तेल का सेवन (Coconut Oil and Diabetes) :

ऐसी कई स्टडीज़ हैं जो, ये दर्शाती हैं कि नारियल के तेल का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल्स को मैनेज करना आसान हो जाता है। इसके, सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल्स को भी नियंत्रित करना आसाव हो जाता है। इसीलिए गुड कोलेस्ट्रॉल लेवल मे बढ़ोतरी और बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल में कमी देखी जाती है। (Coconut Oil and Diabetes)

Also Read

More News

Uncontrolled Cholesterol: डायबिटीज़ में दिल की बीमारियों का ख़तरा होता है अधिक, इन टिप्स की मदद से रखें कोलेस्टॉल लेवल को कम

ब्लड शुगर लेवल को करता है नियंत्रित:

कोकोनट ऑयल या नारियल के तेल के सेवन का डायबिटिक्स को जो एक बड़ा फायदा मिलता है  वह है ब्लड शुगर लेवल्स को मैनेज करने में मदद करता है। इससे,  रक्त में शुगर की मात्रा को कम करने और उसे नियंत्रण में रखना आसान होता है। तो वहीं, बार-बार लगने वाली भूख और मिठाइयों आदि के लिए लालच भी कम होता है।  जिससे, ओवर इटिंग और  हाई-कैलोरी फूड खाने से बच जाते हैं।

वेट लॉस में भी मददगार:

बॉडी फैट कम करने के लिए भी नारियल का तेल मददगार है। खासकर,  पेट और कमर के आसपास जमा फैट को बर्न करने में नारियल का तेल कारगर है। जैसा कि, बेली फैट दिल की बीमारियों की संभावना बढ़ाता है। इसीलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि नारियल का तेल खाने से दिल की बीमारियों से दिल की रक्षा होती है। इसके अलावा डायबिटीज़ मैनेजमेंट के लिहाज से भी वेट लॉस अहम है। क्योंकि मोटापे के कारण डायबिटीज़ से जुड़ी परेशानियां बढ़ जाती हैं।

Pumpkin Seeds in Diabetes: ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए खाएं कद्दू के बीज

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on