Sign In
  • हिंदी

Critical stage of dengue : इन लक्षणों से जानें कि गंभीर स्टेज में पहुंच गया है डेंगू

डेंगू में प्लेटलेट काउंट काफी कम हो जाता है। जिससे मरीज की सेहत और जान दोनों को खतरा हो सकता है। पर हर बार डेंगू पर बहुत ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं होती। आप उन्हें घरेलू उपायों से भी नियंत्रण में ला सकते हैं। डेंगू को हम दो श्रेणियों में बांट सकते हैं। हल्का डेंगू और खतरनाक डेंगू। ©Shutterstock.

डेंगू में प्लेटलेट काउंट काफी कम हो जाता है। जिससे मरीज की सेहत और जान दोनों को खतरा हो सकता है। पर हर बार डेंगू पर बहुत ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं होती। आप उन्हें घरेलू उपायों से भी नियंत्रण में ला सकते हैं। डेंगू को हम दो श्रेणियों में बांट सकते हैं। हल्का डेंगू और खतरनाक डेंगू।

Written by Yogita Yadav |Published : July 20, 2019 9:08 PM IST

ये मौसम डेंगू के वायरस का सबसे खतरनाक (Critical stage of dengue) मौसम माना जाता है। इस मौसम में डेंगू फैलाने वाले मच्‍छरों की संख्‍या काफी बढ़ जाती है। साथ ही हरियाली बढ़ने के कारण उनके छिपने और हमला करने के ठिकाने में भी खूब बढ़ जाते हैं। पर हर बार डेंगू खतरनाक (Critical stage of dengue) नहीं होता। अगर शुरूआती स्‍टेज पर पता चल जाए तो डेंगू का इलाज किया जा सकता है। पर यहां हम कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं जिनसे आपको यह मालूम चल जाएगा कि कहीं डेंगू की बीमारी खतरनाक स्‍टेज पर तो नहीं पहुंच गई।

इन दिनों बढ़ जाते हैं डेंगू के मच्‍छर

बरसात के मौसम में ज्‍यादातर कीट प्रजनन करते हैं। जिसकी वजह से इन दिनों में मच्‍छरों की तादाद काफी बढ़ जाती है। इससे डेंगू का वायरस और उसके फैलने की संभावना भी पहले के दिनों में ज्‍यादा बढ़ जाती है। जिससे डेंगू फैलने का खतरा भी बढ़ जाता है।

दो स्‍टेज पर होता है डेंगू (Critical stage of dengue)

इसमें प्‍लेटलेट काउंट काफी कम हो जाता है। जिससे मरीज की सेहत और जान दोनों को खतरा हो सकता है। पर हर बार डेंगू पर बहुत ज्‍यादा घबराने की जरूरत नहीं होती। आप उन्‍हें घरेलू उपायों से भी नियंत्रण में ला सकते हैं। डेंगू को हम दो श्रेणियों (Critical stage of dengue)में बांट सकते हैं। हल्‍का डेंगू और खतरनाक डेंगू।

Also Read

More News

खतरनाक स्‍टेज के लक्षण (Critical stage of dengue)

डेंगू फैलने के 3 से 7 दिन बाद तक यह काफी क्रिटिकल हो जाता है। पहला चरण पूरा होने के बाद जब मरीज के शरीर का तापमान डाउन होने लगता है तब लोगों को लगता है कि वह ठीक हो रहा है। जबकि यह गंभीर स्‍टेज (Critical stage of dengue) होती है।

गंभीर डेंगू के लक्षण (Critical stage of dengue)

बहुत तेज पेट दर्द, लगातार उल्टियां, मसूड़ों से खून आना, खून की उल्टियां होना, सांस लेने में तकलीफ होना, मोटापा और बहुत तेजी से थकान होना. जब मरीज में डेंगू के यह लक्षण दिखाई दें तो उसे तत्काल पास के अस्पताल के एमरजेंसी वार्ड में या पास की किसी डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए।

नींद नहीं हुई पूरी, तो बढ़ जाएगा हार्ट अटैक का जोखिम

मेंस हेल्‍थ : आखिर क्‍यों पुरुषों में भी बढ़ती जा रही है थायरॉइड की समस्‍या

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on