Sign In
  • हिंदी

Chest Infection: चेस्ट इंफेक्शन के कारण हो सकता है ऑर्गन्स काम करना बंद, सर्दियों में चेस्ट इंफेक्शन से राहत पाने के लिए करें ये उपाय

चेस्ट इंफेक्शन से राहत पाने के लिए टिप्स।

चेस्ट इंफेक्शन एक ऐसी समस्या है जिसमें, वायरस या बैक्टेरिया से फेफड़ों को नुकसान पहुंचने की वजह से इंफेक्शन हो जाता है। इससे, सांस लेने की प्रक्रिया बहुत ज़्यादा प्रभावित होती है। फेफड़ों से जुड़ी हुई चेस्ट इंफेक्शन की समस्या होने पर फेफड़ों  को इस स्थिति में काम करने में परेशानी होती है। इसीलिए, शरीर के दूसरे अंगों तक सही मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता। इससे, ऑर्गन फेलियर की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती है।

Written by Sadhna Tiwari |Updated : February 5, 2020 8:55 PM IST

चेस्ट इंफेक्शन (Chest Infection)  की समस्या मौसम बदलने और खासकर, सर्दियों के मौसम में बढ़ जाती है। इसमें, लोगों को बहुत अधिक ठंड लगती है। गले में जकड़न और सांस लेने में तकलीफ भी इसमें होती है। चेस्ट इंफेक्शन (Chest Infection remedies)  एक ऐसी समस्या है जिसमें, वायरस या बैक्टेरिया से फेफड़ों को नुकसान पहुंचने की वजह से इंफेक्शन हो जाता है। इससे, सांस लेने की प्रक्रिया बहुत ज़्यादा प्रभावित होती है।

शरीर पर क्या प्रभाव होता है चेस्ट इंफेक्शन का (Chest Infection) :

फेफड़ों से जुड़ी हुई चेस्ट इंफेक्शन (Chest Infection)  की समस्या। जिसका,  एक बड़ा नुकसान है शरीर के बाकी हिस्सों तक ऑक्सीजन ना पहुंचना। जैसा कि, फेफड़ों  को इस स्थिति में काम करने में परेशानी होती है। इसीलिए, शरीर के दूसरे अंगों तक सही मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता। इससे, ऑर्गन फेलियर की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती है।

Cold and Cough Remedies: सर्दी-ज़ुकाम से राहत पाने के लिए आज़माएं ये 3 चीज़ें।

Also Read

More News

नैचुरल उपाय जो चेस्ट इंफेक्शन से दिलाते हैं राहत:

अदरक का सेवन करें:

मौसमी बीमारियों जैसे चेस्ट इंफेक्शन आदि से राहत पाने के लिए अदरक कारगर है। इसके, एंटी-माइक्रोबियल गुण बैक्टेरिया और वायरस के प्रभावों को कम करते हैं। यह श्वसन मार्ग की ब्लॉकेज़ को खत्म करता है। जिससे,  सांस लेने की परेशानी कम होती है।

शहद:

जैसा कि, शहद यानि हनी कीटाणुओं और बैक्टेरिया को खत्म करने वाले गुणों से भरपूर होता है। इसीलिए, मौसमी बीमारियों से राहत पाने के लिए शहद के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। चेस्ट इंफेक्शन के शुरुआती लक्षण दिखने पर शहद चाटने से राहत मिलती है।

प्याज़ का करें सेवन:

दरअसल, प्याज़ में ऐसे तत्व होते हैं जो, गले की तकलीफों को कम करते हैं और सीने में जकड़न की परेशानी से राहत दिलाते हैं।  चेस्ट इंफेक्शन की वजह से अगर सांस लेने में परेशानी हो तो प्याज़ को शहद और नींबू के रस के साथ लें। इससे, धीरे-धीरे जकड़न कम होगी।

Flue Remedies for Babies: जब बच्चों को हो सर्दी-ज़ुकाम, तो ये 2 नुस्खे करें ट्राई

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on