Sign In
  • हिंदी

तृणमूल सांसद नुसरत जहां को सांस की समस्या, जानें सांस लेने में तकलीफ के कारण और दूर करने के उपाय

तृणमूल सांसद नुसरत को सांस की समस्या, आईसीयू में भर्ती। जानें, जब आपको सांस लेने में कोई परेशानी आए, तो कैसे बचें इस समस्या से।

बांग्ला फिल्मों की अभिनेत्री व तृणमूल कांग्रेस की लोकसभा (टीएमसी) सांसद नुसरत जहां (nusrat jahan) को सांस लेने में परेशानी (Breathing problem) होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानें, सांस लेने में क्यों होती है तकलीफ और कैसे इस समस्या से बचा जा सकता है।

Written by Anshumala |Published : November 18, 2019 6:14 PM IST

बांग्ला फिल्मों की अभिनेत्री व तृणमूल कांग्रेस की लोकसभा (टीएमसी) सांसद नुसरत जहां (nusrat jahan) को सांस लेने में परेशानी (Breathing problem) होने पर यहां के एक अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया है। उनके एक करीबी सूत्र ने सोमवार को यह जानकारी दी। सांस लेने में परेशानी के बाद उन्हें यहां के अपोलो ग्लेनेग्लेस हॉस्पिटल में रविवार रात लगभग 9.30 बजे लाया गया।

सूत्रों ने कहा, "उनकी हालत स्थिर है और वह होश में हैं।" सूत्रों ने कहा कि पश्चिम बंगाल के बशीरहाट संसदीय क्षेत्र की सांसद आंतरिक मेडिसिन विशेषज्ञ संदीप मंडल से इलाज करा रही हैं। सूत्रों ने कहा, "सांस लेने में समस्या के चलते नुसरत को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें अस्थमा (Asthma) भी रह चुका है।"

सांस लेने में होती है तकलीफ, ये 3 कारण हो सकते हैं जिम्मेदार

Also Read

More News

सांस लेने में क्यों होती है तकलीफ

कई बार ऐसी स्थिति का हमें सामना करना पड़ता है, जब लगता है कि सांस लेने में तकलीफ (causes of breathing problem) हो रही है। सांस ठीक से नहीं आने के कई कारण (Breathing problem) होते हैं, जैसे हेवी एक्सरसाइज करने के बाद या दौड़ने के बाद सांस लेने में समस्या आती है। कई बार अधिक मेहनत वाला काम करने से भी सांस फूलने लगता है। थोड़ी देर के लिए सांस लेने में कोई समस्या महसूस होना चिंता की बात नहीं, लेकिन बार-बार ऐसा हो, तो डॉक्टर से जरूर मिलें। सांस लेने में तकलीफ होने के कारणों में अस्थमा (Asthma), फेफड़ों व दिल से संबंधित कोई समस्या (lung problem), निमोनिया (pneumonia) भी होता है।

कैसे सांस की तकलीफ को करें दूर

जब आप घर पर, कहीं बाहर, मार्केट, मॉल, लिफ्ट, ऑफिस आदि में हों और सांस लेने में तकलीफ महसूस हो रही हो तो कुछ बातों को जरूर ध्यान में रखना चाहिए। बहुत थकान, कोई एलर्जी, चिंता, वजन अधिक बढ़ना, नाक बंद होने के कारण सांस की नली में ब्लॉकेज आदि के कारण भी सांस लेने में तकलीफ होती है। अस्थमा होने पर काफी अलर्ट रहना चाहिए। अपने साथ इन्हेलर रखना चाहिए। कई बार इन्हेलर पास नहीं होता या खत्म हो जाता है, तो आप नीचे बताए गए टिप्स (How to reduce breathing problem) का पालन जरूर करें...

Breathing Problem : सोते हैं तो सांस लेने में होती है परेशानी, जानें कारण, लक्षण और उपचार

सीधे बैठें

जब भी आपको सांस लेने में तकलीफ महसूस हो, भारी लगे, सांस फूले तो सबसे पहले आराम से आप बिल्कुल सीधे बैठ जाएं। जब तक सांस प्रॉपर तरीके से ना ले पाएं, तब तक ना झुकें और ना ही सोएं।

गहरी सांस लें

सांस जब लेने में तकलीफ महसूस हो तो आप डीप ब्रीदिंग एक्सरसाइज (Breathing exercise) कर सकते हैं। पैनिक अटैक के दौरान अक्सर लोगों का सांस फूलने लगता है या ठीक तरह से वो सांस नहीं ले पाते हैं। डीप ब्रीदिंग पर फोकस करके, इस समस्या से उबरा जा सकता है।

अस्थमा के मरीजों की सांस लेने की तकलीफ को कैसे कम करता है कीवी ?

रिलैक्स रहने की कोशिश करें

चिंता, तनाव, डर के कारण भी सांस लेने में समस्या होने लगती है। ऐसी स्थिति में खुद को रिलैक्स करने की कोशिश करें। आराम पाने के लिए आप स्टीम इन्हेलेशन भी ले सकते हैं। रिलैक्स होने से सीने की मांसपेशियां टाइट नहीं होती हैं। इससे सांस लेना आसान हो जाता है।

गर्म पेय पदार्थ पिएं

गर्म चीजें पीने से सांस की नली ढीली होती है। इससे कंजेशन में आराम मिलता है। आप जो भी लिक्विड पिएं, उसमें एक चम्मच शहद भी मिला सकते हैं। शहद में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो सांस ना आने की समस्या को दूर करते हैं।

थकान, सांस में तकलीफ हो सकते हैं हार्ट डिजीज के लक्षण : एक्सपर्ट

इनपुट : (आईएएनएस हिंदी)

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on