• हिंदी

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को क्यों ज्यादा परेशान करता है गठिया, जानें क्या हैं कारण

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को क्यों ज्यादा परेशान करता है गठिया, जानें क्या हैं कारण

Arthritis यानी गठिया एक ऐसी समस्या है जिससे बहुत से लोग परेशान हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि गठिया की समस्या पुरुषों से ज्यादा महिलाओं को परेशान करती है। आइए जानते हैं क्या हैं इसके पीछे के कारण..

Written by intern23.seo |Updated : November 29, 2023 9:08 AM IST

अर्थराइटिस या गठिया एक ऐसी बीमारी है जिसमें रोगी के जोड़ों में हमेशा दर्द बना रहता है। वहीं सर्दी के मौसम में ये दर्द और भी कष्टकारक बन जाता है। वहीं अर्थराइटिस की ये समस्या पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं को अधिक परेशान करती है। एक आयु के बाद अक्सर महिलाएं अपने जोड़ों में दर्द की शिकायत करने लगती हैं। आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने जा रहे हैं कि क्यों महिलाओं में पुरुषों की तुलना में गठिया की समस्या ज्यादा होती है।

महिलाओं में अर्थराइटिस

अर्थराइटिस की वजह से हमारे जोड़ों में सूजन और दर्द की समस्या लगातार बनी रहती है। जिसका बड़ा कारण बढ़ती हुई उम्र भी है। गठिया के अनेक प्रकार हो सकते हैं, जिनके अपने अलग-अलग जोखिम और लक्षण होते हैं। पुरुष गठिया की समस्या से लगभग 50 साल की आयु के बाद तो वहीं महिलाएं इससे काफी पहले ही गठिया की शिकार हो जाती हैं। आज हम आपको बताएंगे कि क्या कारण हैं कि महिलाएं पुरुषों के मुकाबले जल्दी अर्थराइटिस की शिकार हो रही हैं।

महिलाओं में अर्थराइटिस के कारण (Causes of arthritis in women)

हार्मोन में बदलाव (changes in Hormones)

महिलाओं के शरीर में होने वाले किसी भी तरह की समस्या के लिए हार्मोन अपना महत्वपूर्ण रोल निभाते हैं। दरअसल महिलाओं के शरीर में बनने वाला एस्ट्रोजन हार्मोन सूजन को कम करने में मदद करता है। वहीं एक उम्र के बाद इस हार्मोन के बनने की दर कम हो जाती है। जिससे अर्थराइटिस की समस्या बढ़ जाती है।

Also Read

More News

वजन बढ़ना (gaining weight)

डॉक्टरों की मानें तो अधिक वजन भी अर्थराइटिस का एक बड़ा कारण बन जाता है। वहीं महिलाओं में पुरुषों की अपेक्षा वजन भी ज्यादा होता है। जिससे उनके जोड़ों पर भी अधिक दबाव पड़ता है। यही कारण है कि महिलाओं को पुरुषों के मुकाबले अर्थराइटिस का रिस्क ज्यादा होता है।

ऑटोइम्यून रोग (Autoimmune Diseases)

कई हेल्थ शोधों में ये साबित हुआ है कि महिला पुरुषों के मुकाबले ऑटोइम्यून बीमारियों की गिरफ्त में ज्यादा आ जाती है। जिसका कारण उनके इम्यूनिटी सिस्टम का अधिक प्रतिक्रियाशील होना है। इम्यून सिस्टम का ज्यादा रिएक्टिव होना अर्थराइटिस या गठिया जैसी समस्या का कारण बन जाता है।

Disclaimer: यह लेख आपको केवल सामान्य जानकारी देता है। इसका उद्देश्य किसी तरह की एक्पर्ट एडवाइज देना नहीं है। अर्थराइटिस एक गंभीर बीमारी है, जिसका इलाज समय रहते कराना चाहिए। विशेषकर महिलाओं को अर्थराइटिस से बचाव के लिए कुछ अधिक प्रयास करना चाहिए। और किसी तरह की समस्या होने पर तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।