Sign In
  • हिंदी

30 की उम्र के बाद पीठ दर्द, बाल झड़ना और आंखों के सामने अंधेरा छाना हैं आयरन की कमी के लक्षण, इस नेचुरल चीजों से करें आयरन की कमी को दूर

30 की उम्र के बाद पीठ दर्द, बाल झड़ना और आंखों के सामने अंधेरा छाना हैं आयरन की कमी के लक्षण, इस नेचुरल चीजों से करें आयरन की कमी को दूर

पीठ में दर्द (Back Pain), हड्डियों से आवाज आना या कमजोर होना, पीरियड्स (Periods) का अनियमित होना, हमेशा थकान (Weakness) रहना आदि आयरन की कमी के लक्षण हो सकते हैं।

Written by Rashmi Upadhyay |Updated : December 29, 2020 12:01 PM IST

यूं तो आयरन हर व्‍यक्ति के लिए जरूरी होता है लेकिन महिलाओं के शरीर में इसकी कमी होने पर ज्‍यादा गंभीर परिणाम भुगतने पड़ते हैं। जब महिलाओं के शरीर में आयरन की कमी होती है तो शरीर कुछ संकेत देता है, लेकिन जब महिलाएं इन्‍हें समझ नहीं पाती हैं या नजरअंदाज कर देती हैं तो ये खतरनाक रूप भी ले सकती है। पीठ में दर्द (Back Pain), हड्डियों से आवाज आना या कमजोर होना, पीरियड्स (Periods) का अनियमित होना, हमेशा थकान (Weakness) रहना आदि आयरन की कमी के लक्षण हो सकते हैं। वहीं, महिलाओं के लिए आयरन इसलिए भी जरूरी हो जाता है क्‍योंकि 30 की उम्र के बाद, पीरियड्स, प्रेगनेंसी, मेनोपॉज में इसकी खपत बढ़ जाती है।

एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स द्धारा की गई एक रिसर्च से पता चलता है कि एनीमिया ना केवल वयस्कों में बल्कि बच्चों को भी खूब प्रभावित करता है। एसआरएल की रिपोर्ट के अनुसार, 80 साल से अधिक उम्र के 91 फीसदी लोग, 61 से 85 साल से 81 फीसदी लोग, 46 से 60 साल से 69 फीसदी लोग, 31 से 45 साल के 59 फीसदी लोग, 16 से 30 साल के 57 फीसदी लोग तथा 0-15 साल के 53 फीसदी बच्चे और किशोर एनिमिया से ग्रस्त पाए गए। 45 साल से अधिक उम्र के मरीजों में एनिमिया के सबसे गंभीर मामले पाए गए। इसके अलावा अन्‍य शोध बताते हैं कि लगभग 80% भारतीय महिलाओं में आयरन की कमी होती है। जिसमें 57.8% गर्भवती महिलाएं होती है। इसलिए इस पर ध्यान देना जरूरी है लेकिन भारतीय औरतें इसे लेकर लापरवाही बरतती है, जो कई बीमारियों को न्योता देता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)के अनुसार, दुनिया भर में दो अरब लोग एनिमिया से ग्रस्त हैं और इनमें से आधे मामलों का कारण आयरन की कमी ही होता है।

Also Read

More News

आयरन की कमी के लक्षण और कारण क्‍या हैं?

महिलाओं के शरीर में हॉर्मोनल बदलाव भी खून की कमी का कारण बनता है। जैसे कि पीरियड्स के दौरान अधिक ब्लीडिंग होना, किसी बीमारी या प्रेगनेंसी के दौरान अधिक खून का बहना आदि शरीर में आयरन की कमी का कारण बन सकते हैं। इसके अलावा गलत खानपान, शरीर में पानी की कमी और अधिक मात्रा में कैल्शियम का सेवन भी आयरन की कमी का कारण बन सकता है। वहीं अगर खून की कमी के लक्षणों की बात करें तो पीठ में दर्द, दांतों का कमजोर होना, बाल झड़ना, चक्‍कर आना, बेहोशी और हाथ-पैर, व तलवे ठंडे पड़ जाना भी इसके लक्षण हैं।

ऐसे करें आयरन की कमी को पूरा

1. अगर आप आयरन की कमी से जूझ रहे हैं, तो अपने आहार में फलों को जगह दें। इसके साथ ही साथ ड्राई फ्रूट्स को अभी अपनी डाइट में शामिल करें।

2. चुकंदर स्वास्थ के लिए एक वरदान है इसे आप दिन में जरुर खाएं, ये खान से पहले आप सलाद के तौर पर खा सकते हैं। इसके साथ ही आप इसका जूस भी पी सकते हैं. इसके सेवन से आपके शरीर में एनीमिया की समस्या कम हो जाएगी, इसके साथ ही आपका हीमोग्लोबिन भी बढ़ जाएगा जिससे आप पहले से ज्यादा स्वस्थ महसूस करेंगे।

3. अनार तो आप खाते ही होंगे ये वैसे भी स्वास्थ के लिए बेहतरीन है, इसके साथ ही ये आपके आयरन की कमी को दूर करता है। साथ ही इससे एनीमिया से छुटकारा मिलता है. हर दिन आप अनार का सेवन करें जूस के तौर पर भी आप इसे ले सकते हैं।

4. पालक हर सिजन में नहीं मिलता है लेकिन जब भी बाजार में ये आए आप इसे जरुर खाए। पालक का सूप,जूस,सब्जी और पालक पनीर के तौर पर आए खा सकते हैं, इसमें काफी मात्रा में कैल्शियम, सोडियम, क्लोरीन, फास्फोरस, खनिज लवण और प्रोटीन पाया जाता है जो आपके शरीर के लिए फायदेमंद है

5. ये तो हर किसी को पसंद होता है इसे खाने का अपना अलग ही स्वाद है, इससे शरीर में खून की कमी को पूरा किया जाता है। ऐसे में आप अमरुद का सेवन जरुर करें ये आपके स्वास्थ के लिए बहुत अच्छा है

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on