Sign In
  • हिंदी

हेल्‍दी नाश्‍ता है सत्‍तू परांठा, इस विधि से करें तैयार

सत्तूू का परांठा खाने में टेस्टी है और यह लंबे समय तक पेट भरे होने का अहसास देता है। © Shutterstock

सत्तूू का परांठा खाने में टेस्टी है और यह लंबे समय तक पेट भरे होने का अहसास देता है।

Written by Yogita Yadav |Published : August 21, 2019 9:05 AM IST

हर रोज, हर रसोई में एक ही सवाल उठता है कि आखिर नाश्‍ते में क्‍या बनाया जाए। सुबह का नाश्‍ता आपको दिन भर के लिए तैयार करता है। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें स्‍वाद और सेहत दोनों का ख्‍याल रखा जाए। ऐसा ही हेल्‍दी ब्रेकफास्‍ट आइडिया है सत्‍तू का परांठा (Sattu parantha)। सत्‍तू का परांठा  (Sattu parantha) न सिर्फ हेल्‍दी है बल्कि इसका स्‍वाद भी खास है। तो सत्‍तू के परांठे के साथ दिन को दें एक बेहतर शुरूआत। आइए जानते हैं सत्‍तू का परांठा बनाने की रेसिपी।

फायदेमंद है सत्‍तू का सेवन 

गर्मियों में ही नहीं, सत्‍तू को मानसून में भी खास माना जाता है। यह जौ और चने को मिक्‍स करके बनाया जाता है। इसलिए इसमें दोनों के ही पोषक तत्‍व मौजूद रहते हैं। सत्‍तू को लोग कई तरह से खाते हैं। आज हम आपको इसके परांठे बनाना सिखाएंगे। सत्‍तू के ये स्‍टफ्ड परांठे (Sattu parantha) बच्‍चे ही नहीं बड़ों को भी खूब पसंद आएंगे। साथ ही इनकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि इससे पेट देर तक भरे होने का अहसास देता रहेगा।

सत्‍तू का परांठा बनाने की सामग्री (Sattu parantha)

आटा , नमक, सत्‍तू , धनिया, हरी मिर्च,  अदरक, आम के अचार का मसाला, नमक, काला नमक, क्रश करौंजी, क्रश की हुई अजवायन, सरसों का तेल, बारीक कटी प्‍याज, तेल या घी – परांठे सेंकने के लिए।

Also Read

More News

सत्‍तू का परांठा बनाने की विधि (Sattu parantha)

आटे को किसी प्याले में निकाल लीजिए, इसमें 1/2 छोटी चम्मच नमक और 2 छोटे चम्मच तेल डालकर अच्छे से मिक्स कीजिए। अब थोडा़-थोडा़ पानी डालते हुए आटा गूथ कर तैयार कीजिये। गुथे आटे को सैट होने के लिये 20 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये।

सत्‍तू परांठा के लिए स्टफिंग

  • स्टफिंग के लिए एक बड़े प्याले में सत्तू निकाल लीजिए इसमें हरा धनिया, हरी मिर्च, अदरक, आम के अचार का मसाला, नमक, काला नमक, क्रश करौंजी, क्रश की हुई अजवायन, बारीक कटी प्‍याज, सरसों का तेल और 4-5 छोटी चम्मच पानी डालकर सभी चीजों को अच्छे से मिक्स कर लीजिए।
  • अब सैट आटे को एक बार फि‍र से चिकने हाथ से गूथ लीजिए। अब इसमें से अपनी इच्‍छानुसार छोटी या बड़ी लोई लेकर उसमें सत्‍तू का मिश्रण भरती जाइए। लोई को सूखे आटे की सहायता से चकले पर गोल बेल लीजिए। आप चाहें तो दो मूली के परांठे की तरह दो छोटी लोई बेलकर, उसमें भी स्टफिंग भर सकती हैं। सत्‍तू का परांठा किसी भी तरह से बनाया जा सकता है।
  • बेले हुए परांठों को गर्म तवे पर सेंकती जाइए। घी या तेल जो भी आप इस्‍तेमाल करना चाहें, उससे परांठे सेकती जाइए। एक ओर से परांठा सिकने पर इसे पलट दीजिए और दूसरी ओर से भी सेक लीजिए। परांठे को कलछी से दबा-दबा कर दोनों ओर ब्राउन चित्ती आने तक सेक लीजिए।
  • लीजिए तैयार हैं गरमा गरम सत्तू के परांठे। परांठों को आप दही, अचार, चटनी, टमाटर आलू की सब्जी या अपनी मन पसन्द सब्जी के साथ परोसिये और खाइये।

सद् गुरू भी बता रहे हैं कच्‍चे फल और सब्जियां खाने के लाभ, जानें बेहतर पाचन का राज

फेस्टिवल के बाद इस तरह करें बॉडी डिटॉक्‍सीफिकेशन

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on