Sign In
  • हिंदी

बवासीर और कैंसर जैसी घातक बीमारियों के लिए गुणकारी है कंटोला, जानें इसके और भी फायदे   

बवासीर और कैंसर जैसी घातक बीमारियों के लिए गुणकारी है कंटोला, जानें इसके और भी फायदे   

मानसून में मिलने वाली सब्जी कंटोला (Monsoon Vegetables) सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है। अंग्रेजी में इस सब्जी को स्पाइनी गॉर्ड (Spiny Gourd) या टीज़ल गॉर्ड (Teasle Gourd) कहते हैं। यह देखने में कांटेदार करेले के समान, लेकिन साइज में काफी छोटा होता है। सेहत की दृष्टि से यह सब्जी कई रोगों में फायदेमंद होती हैं। आइए जानते हैं। कंटोला खाने के फायदे-

Written by Kishori Mishra |Updated : July 17, 2020 1:11 PM IST

Spiny Gourd Benefits  : भारतीय बाजरों में मानसून (Monsoon Vegetables) के मौसम में कंटोला की सब्जी देखी जाती है। यह देखने में भले ही कांटेदार हो, लेकिन स्वास्थ्य के लिए यह सब्जी बहुत ( Spiny Gourd Benefits) ही फायदेमंद है। भारत के अलावा अब इस सब्जी की खेती, दुनियाभर के अन्य देशों में भी की जाती है। इसे काकरोल, ककोड़ा, टीसलेल, कांक्रो इत्यादि के नाम से जाना जाता है। कंटोला मुख्य रूप से भारत के पर्वतीय क्षेत्रों में होता है।

इसका वनस्पति नाम है मोमोर्डिका चरंशिया (Momordica charantia) जो कुकरबिटेसी (Cucurbitaceae) प्रजाति का पौधा है। अंग्रेजी में इस सब्जी को स्पाइनी गॉर्ड (Spiny Gourd) या टीज़ल गॉर्ड (Teasle Gourd) कहते हैं। यह देखने में कांटेदार करेले के समान, लेकिन साइज में काफी छोटा होता है। सेहत की दृष्टि से यह सब्जी कई रोगों में फायदेमंद होती हैं। आइए जानते हैं। कंटोला खाने के फायदे-

प्रेगनेंसी में उपयोगी (Spiny Gourd in Pregnancy)

गर्भावती महिलाओं में कई महत्वपूर्ण स्थितियां पैदा होती हैं। इनमें से एक है न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट्स। कंटोला की हरी सब्जी ( Spiny Gourd Benefits) फोलेट (विटामिन बीसी) का अच्छा स्रोत है, जो कोशिकाओं के विकास और प्रजनन के लिए जरूरी होता है। अगर गर्भवती महिलाएं, अपने गर्भावस्था के दौरान इस सब्जी का सेवन करती हैं, तो उन्हें न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट्स होने की सम्भावना काफी कम होती है।

Also Read

More News

कैंसर का करे उपचार (Momordica Charantia for Cancer)

कैंसर के मुख्य कारणों में से एक है शरीर में अधिक विषाक्त मुक्त कणों का होना। कंटोला की ताजी हरी सब्जी विटामिन सी से भरपूर होती है। यह बहुत ही अच्छी प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट है। इससे कैंसर होने की संभावना को कम किया जा सकता है। इसके अलावा विटामिन सी शरीर में अधिक विषैले मुक्त कणों को दूर करने में हमारी मदद करता है।

स्किन के लिए फायदे (Momordica Charantia for Skin in Hindi)

कंटोला में अल्फा-कैरोटीन,  बीटा-कैरोटीन, ल्यूटेन और जोक्सैंथिन्स जैसे फ्लेवोनोइड्स पाए जाते हैं। ये सभी तत्व बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने में हमारी मदद कर सकता है। यह हमारी त्वचा को स्वस्थ रखने में काफी सहायक है। इसके साथ ही यह विभिन्न प्रकार के स्किन रोगों को ठीक करने में हमारी मदद करता है।

आंखों की दृष्टि में करे सुधार  (Spiny Gourd Improves Eyesight)

यह विटामिन ए (Vitamin A) से भरपूर होता है, जो आंखों की रोशनी के लिए काफी आवश्यक तत्व है। इसकी मदद से आप अपनी आंखों की रोशनी को सुधार सकते हैं। अगर आपको आंखों से संबंधित किसी तरह की समस्या है, तो कटोला को अपने भोजन में जरूर शामिल करें। इसका सेवन आंखों के साथ-साथ सेहत के लिए भी काफी अच्छा होता है।

बुखार को ठीक (Spiny Gourd Benefits for Fever)

बुखार को भी ठीक करने में कंटोला आपकी मदद कर सकता है। इसके लिए इसके बेल की कुछ पत्तियों को लें। अब इस बेल के पत्तों को एक गिलास पानी में उबालें। उबले पानी में 1 टी-स्पून कच्चा शहद मिलाएं और इसका सेवन करें। इससे वायरल बुखार ठीक किया जा सकता है। साधारण दिनों में भी आप इसके पानी का सेवन कर सकते हैं।

बवासीर से राहत (Kantola Good for Piles in Hindi)

बवासीर की समस्या में आप कंटोला का इस्तेमाल औषधि के रूप में कर सकते हैं। इसका इस्तेमाल करने के लिए कंटोला का पाउडर तैयार करें। इस पाउडर को एक दिन में दो बार लें। इसका सेवन करने के लिए 5 ग्राम कंटोला पाउडर  में करीब 5 ग्राम चीनी को मिलाएं और इसे खा लें। ऐसा करने से बवासीर की समस्या ठीक हो सकती है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on