Advertisement

रात को भोजन की जगह फल खाने की सोच रहे हैं तो भूलकर भी न करें ये काम ! जानें रात को फल खाना कितना सही

अगर आपको देर रात कुछ मीठा खाने का मन करता है तो आपको आइस क्रीम या पैकेज्ड केक, चॉकलेट के बजाए स्ट्रॉबेरी, खरबूजे, सेब जैसे फल खाने चाहिए क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य के लिए अधिक बेहतर होते हैं। इस लेख में जानें कैसा होता है रात के वक्त फल खाना।

फल स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं, इसमें कोई शक नहीं। कुछ लोग महीनों तक फलों वाली डाइट लेते हैं ताकि हेल्दी रहें और उन्हें अपना सही वजन बनाए रखने में मदद मिलें। दरअसल ताजे फलों में ढेर सारा फाइबर होता हैं और ये सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं लेकिन इस बात को लेकर अक्सर लोगों के बीच बहस रहती है कि क्या रात के वक्त फल खाने चाहिए।

रात को फल खाना कैसा है?

अगर आपको देर रात कुछ मीठा खाने का मन करता है तो आपको आइस क्रीम या पैकेज्ड केक, चॉकलेट के बजाए स्ट्रॉबेरी, खरबूजे, सेब जैसे फल खाने चाहिए क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य के लिए अधिक बेहतर होते हैं। यह आपको अतिरिक्त कैलोरी के पाचन प्रणाली में प्रवेश करने से बचाने में मदद करते हैं। फल कैलोरी भी प्रदान करते हैं लेकिन आपको फाइबर और अन्य पोषक तत्व भी मिलते हैं। अगर आप रात में फल खाते हैं तो कृपया इन बातों पर जरूर ध्यान दें।

  • जिन लोगों को थायराइड है उन्हें आम जैसे फल नहीं खाने चाहिए क्योंकि ये शुगर से भरे होते हैं। यह आपके स्वास्थ्य के लिए और भी ज्यादा खराब हो सकते हैं।
  • तरबूज जैसे पानी वाले फल खाने के बाद पानी पीने से बचें।
  • फल खाने से पहले या बाद में चाय और कॉफी पीने से बचना चाहिए।
  • अगर आप अपने भोजन के हिस्से के रूप में फल खा रहे हैं, तो कृपया इसे पहले खाएं और बाद में रोटी या चावल खाएं।
  • अगर आप रात में फल खाना चाहते हैं तो रात में बहुत देर से फल न खाएं। आप रात के 8 बजे तक फल खा सकते हैं लेकिन रात में बहुत देर से फल खाने से बचें।

रात में फल खाना सेहत के लिए खराब

  • रात में उच्च कार्ब वाले फल जैसे आम, केला आदि का सेवन सीरियल की तुलना में बराबर या अधिक कैलोरी प्रदान कर सकते हैं।
  • रात में फल खाने से पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं और आपकी नींद में खलल पड़ सकता है।
  • फलों में फाइबर होता है और फाइबर को पचाने के लिए आपका पाचन तंत्र धीमा हो जाता है। इसके अलावा, फलों में शुगर (फ्रुक्टोज) भी होता है, जिसे आपका पाचन तंत्र धीरे-धीरे पचता है और हमारे शरीर द्वारा धीरे-धीरे अवशोषित होता है।
  • अगर आप हार्ट बर्न या एसिड रिफ्लक्स जैसी समस्या से पीड़ित हैं, तो संतरे जैसे खट्टे फल खा सकते हैं।
  • केला और संतरा जैसे कुछ फल खाने से कुछ लोगों को गले में खराश हो सकती है।

अगर आप विशेष रूप से कैलोरी को प्रतिबंधित करने के लिए रात के भोजन में फलों को शामिल करने का विचार बना रहे हैं तो सब्जियों के सलाद, दाल, अंकुरित बीन्स आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकते हैं। आप अपने सलाद में सेब जैसे कम कार्ब वाले फल जरूर शामिल कर सकते हैं।

Also Read

More News

फल वजन घटाने और कैलोरी को सीमित करने के लिए चमत्कार कर सकते हैं, अगर नाश्ते में खाया जाए तो और दिन के प्रमुख भोजन के बीच नाश्ते के रूप में सबसे अच्छा होते हैं।

साबुत अनाज से बनी चपाती के छोटे हिस्से के साथ-साथ फलों या सलाद के अच्छे हिस्से को खाने की कोशिश करें क्योंकि फल अकेले ही हमारे शरीर की जरूरतों को पूरा नहीं करते हैं और हमें दिन में तीन बार भोजन की आवश्यकता होती है और अगर आप सिर्फ फलों पर ही निर्भर रहते हैं तो ये आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली यानी की इम्यून सिस्टम को कमजोर कर देगा। इस कारण जब आप बीमार पड़ेंगे तो आपके शरीर में इससे लड़ने के लिए पर्याप्त ताकत नहीं होगी। इसलिए ऐसा बिल्कुल भी न करें।

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on