Advertisement

दही-दूध पोहा: बच्चों के लिए एक पौष्टिक नाश्ता

स्पोर्ट और क्लिनिकल न्यूट्रिशनिस्ट मिहिरा खोपकर बता रही हैं एक यह पौष्टिक रेसिपी।

पोहा एक पौष्टिक नाश्ता है जो अधिकांश घरों में आमतौर पर मिल ही जाता हैं। शीरा, उपमा और पोहा जैसे नाश्ते न जाने कितनी पीढ़ियों से हम खा रहे हैं और घर की महिलाएं इन्हें बड़े प्यार से बनाकर अपने बच्चों को खिलाती रही हैं। ये गर्मा-गर्म नाश्ते जब चाय के साथ प्यार से परोसे जाते हैं तो इनका स्वाद और भी बढ़ जाता है। निश्चित रूप से मोहक है। पोहा / चिवड़ा / चूरा चावलों को चपटा करके बनाया जाता है और यह हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है!

स्पोर्ट और क्लिनिकल न्यूट्रिशनिस्ट मिहिरा खोपकर (संस्थापक, मार्क) बता रही हैं एक दही-दूध-पोहा की पौष्टिक रेसिपी जिसमें पोहे की पारम्परिक डिश में थोड़ा-सा हेल्दी बदलाव किया गया है।

दही-दूध-पोहा बनाने के लिए सामग्री:

Also Read

More News

100 ग्राम पोहे या चूरा

100 ग्राम दही

1-2 बड़े चम्मच दूध

2 चम्मच चीनी

दही-दूध-पोहा बनाने का तरीका:

एक बड़े बर्तन या कटोरे में सभी चीज़े डालें और अच्छी तरह मिलाएं और 5 मिनट के लिए एक तरफ रख दें ताकि पोहे दही और दूध से अच्छी तरह भीगकर नर्म हो जाएं। जब पोहे अच्छी तरह नर्म हो जाएं तो आप इन्हें परोस सकते हैं।

फायदे:

पोहा कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन का समृद्ध स्रोत होता है। 50 ग्राम पोहे से कम से कम 180 कैलोरी मिलती है। इसके अलावा, जब इन्हें दूध के साथ मिलाया जाता है तो यह आपकी त्वचा के लिए अच्छा बन जाते हैं। यहां हम लिख रहे हैं इसके कुछ अन्य फायदे:

अच्छा प्रोबायोटिक।

ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है।

पचाने में आसान।

त्वचा के लिए फायदेमंद।

कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत।

प्रोटीन और लौह का भी स्रोत !

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on