Advertisement

Foods high in Protein: मसल्स के विकास और वेट लॉस के लिए ज़रूरी है प्रोटीन का सेवन , ये फूड्स हैं प्रोटीन के सबसे अच्छे स्रोत

प्रोटीन की कमी के कारण कमज़ोरी और मसल्स लॉस हो सकता है। क्योंकि,  प्रोटीन मसल्स बिल्डिंग में मदद करता है। साथ ही यह शरीर को शक्ति देने का काम भी करता है।  प्रोटीन से भरपूर भोजन वेट लॉस भी करता है। इससे, पेट भी भरता है। जिससे, आपको अनहेल्दी फूड्स खाने की इच्छा कम होती है।  प्रोटीन की सही मात्रा प्राप्त करने के लिए इन फूड्स को अपनी डेली डायट में शामिल किया जा सकता है।

Foods high in Protein: प्रोटीन (protein) डायट का ना केवल एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। बल्कि, यह शरीर के विकास और पोषण के लिए भी महत्वपूर्ण है। प्रोटीन की कमी ( Protein deficiency) के कारण कमज़ोरी और मसल्स लॉस हो सकता है। क्योंकि,  प्रोटीन मसल्स बिल्डिंग में मदद करता है। साथ ही यह शरीर को शक्ति देने का काम भी करता है।  प्रोटीन से भरपूर भोजन वेट लॉस भी करता है। इससे, पेट भी भरता है। जिससे, आपको अनहेल्दी फूड्स खाने की इच्छा कम होती है।  प्रोटीन की सही मात्रा प्राप्त करने के लिए इन फूड्स को अपनी डेली डायट में शामिल किया जा सकता है। (Foods high in Protein)

Diet Tips for Women: भारतीय महिलाओं में होती है प्रोटीन की भारी कमी, ज़रूर खाएं प्रोटीन से भरपूर ये फूड्स

ये फूड्स हैं प्रोटीन का स्रोत (Foods high in Protein) :

जैसा कि , भारत में ज़्यादातर लोग शाकाहार लेते हैं। लेकिन, साथ ही यह भी सच है कि हमारे देश में अधिकांश लोगों के शरीर में प्रोटीन की कमी है। ऐसा नहीं है कि शाकाहारी या वेजिटेरियन फूड से प्रोटीन की रोज़ाना की ज़रूरत पूरी नहीं हो सकती है। लेकिन, इसके लिए प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थों के बारे में जानकारी होना भी ज़रूरी है।

Also Read

More News

दही और डेयरी प्रॉडक्ट्स:

दूध पीने से कैल्शियम के अलावा प्रोटीन भी मिलता है। एक गिलास लो-फैट दूध पीने से लगभग 8 ग्राम प्रोटीन मिलता है। जबकि, पनीर, दही और चीज़ जैसे डेयरी प्रॉडक्ट्स भी प्रोटीन से भरपूर होते हैं। इसीलिए, अपनी डायट में इन्हें शामिल करने से प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा प्राप्त होती है।

Cold Milk Benefits: डायजेशन नहीं रहता ठीक या चाहिए हेल्दी ग्लोइंग स्किन तो लें ठंडे दूध की मदद, जानें ठंडे दूध के 4 बेमिसाल फायदे

नट्स (Foods high in Protein ):

हेल्दी फैट्स और प्रोटीन, दोनों का अच्छा स्रोत हैं नट्सा। इसीलिए, इन्हें इवनिंग या मिड-मॉर्निंग स्नैक्स के तौर पर खाएं।

फ्लैक्सीड:

अलसी के बीज यानि फ्लैक्सीड भी प्रोटीन से भरपूर होते हैं।  Flaxseeds oil: वेट लॉस के लिए डायट में शामिल करें फ्लैक्सीड ऑयल, कॉन्स्टिपेशन से राहत और हेल्दी हार्ट जैसे फायदे भी मिलेंगे

दालें और बीन्स:

राजमा, चने, मूंग, उड़द और मटर जैसे अनाज और इनसे बनी दालें वेजिटरियन्स के लिए प्रोटीन का बेस्ट स्रोत हैं। इससे, ज़्यादा मात्रा में  फाइबर मिलता है। साथ ही ये लो-कैलोरी फूड होते हैं। जिससे, पेट भरने और वेट लॉस जैसे फायदे होते हैं।

Healthy Winter Recipe: एंटीऑक्सिडेंट्स और प्रोटीन से भरपूर हेल्दी रेसिपी है-डुबुक की दाल

नॉन-वेजिटेरियन प्रोटीन रिच फूड:

मांसाहार यानि नॉन-वेजिटेरियन डायट प्रोटीन की मात्रा के लिहाज से अधिक फायदेमंद मानी जाती है। लेकिन, नॉन-वेजिटेरियन फूड्स को पकाते समय उन्हें लो-फैट रखने की कोशिश करनी चाहिए। क्योंकि, हाई कैलोरी और हाई कोलेस्ट्रॉल फूड्स के कारण डायबिटीज़, हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियों की संभावना अधिक होती है। लेकिन, थोड़ी-सी सावधानी से नॉन-वेज खाकर इन समस्याओं से बचा जा सकता है।

अंडा:

हाई  लेवल प्रोटीन ही अंडे को सबसे हेल्दी फूड्स में जगह दिलाता है। अंडों में प्रोटीन और एंटी-ऑक्सिडेंट्स की मात्रा अधिक होती है। जिससे, मेटाबॉलिज़्म बढ़ता है।

Eggs: क्या अंडा खाने से दिल की बीमारियों का ख़तरा बढ़ता है, जानें रोज़ाना कितने अंडे खाना सेफ है?

लीन मीट:

हेल्दी प्रोटीन का स्रोत है लीन मीट। इसीलिए, इसका सेवन कई तरीकों से फायदेमंद हो सकता है। लीन फैट में प्रोटीन के अलावा आयरन की मात्रा भी अधिक होती है। साथ ही, यह लो-फैट फूड भी है।( Foods high in Protein)

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on