Advertisement

प्रदूषण से काफी हद तक बचाता है आंवला, जानें दिन में कब और कितने आंवले खाना होता है फायदेमंद

प्रदूषण से काफी हद तक बचाता है आंवला, जानें 1 दिन में कितने आंवले खाना होता है फायदेमंद

आंवला (Amla) या भारतीय करौदा (Indian gooseberry) सर्दियों का एक ऐसा सुपरफूड है हमें कई बीमारियों से बचाने के साथ ही ठंड और कठोर मौसम से भी बचाता है। खट्टे फल में ऐसे यौगिक होते हैं जो आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करने के साथ ही आपके फेफड़ों को वायु प्रदूषण के दुष्प्रभाव से बचाते हैं।

आंवला (Amla) या भारतीय करौदा (Indian gooseberry) सर्दियों का एक ऐसा सुपरफूड है हमें कई बीमारियों से बचाने के साथ ही ठंड और कठोर मौसम से भी बचाता है। खट्टे फल में ऐसे यौगिक होते हैं जो आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करने के साथ ही आपके फेफड़ों को वायु प्रदूषण के दुष्प्रभाव से बचाते हैं। आंवला का सेवन जूस, अचार और कैंडी के रूप में किया जा सकता है। क्योंकि सर्दियों में आंवला आसानी से मिल जाता है इसलिए इस मौसम में कच्चा आंवला खाने की कोशिश करनी चाहिए। लेकिन आंवला का सही लाभ लेने के लिए आपको इसके सेवन का सही समय और मात्रा भी पता होनी चाहिए।

सर्दियों में आंवला खाने के लाभ

अधिकतर लोगों को लगता है कि सर्दी का मौसम कोल्ड और फ्लू का ही समय होता है, जबकि ऐसा नहीं है। इस मौसम में हार्ट अटैक, हाई ब्लड प्रेशर और रेस्पिरेट्री इश्यू जैसी और भी कई ऐसी बीमारियां हैं जिनका काफी जोखिम रहता है। जो मुख्य रूप से वायु प्रदूषण के स्तर में वृद्धि के कारण होता है। भारतीय करौदा इन सभी सर्दियों से संबंधित स्वास्थ्य चिंताओं को दूर करने में मदद कर सकता है और आप बिना किसी चिंता के मौसम का आनंद ले सकते हैं। सर्दियों के फल के एंटीऑक्सिडेंट और एंटी इन्फ्लामेट्री गुण हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं और आपके रक्तचाप के स्तर को नियंत्रण में रखते हैं।

amla

Also Read

More News

इसमें मौजूद विटामिन सी की उच्च मात्रा आपकी प्रतिरक्षा स्वास्थ्य को मजबूत करती है और सेलुलर क्षति को रोक सकता है, जिससे प्राकृतिक उम्र बढ़ने की प्रक्रिया भी धीमी होती है। आंवले की सबसे सबसे महत्वपूर्ण बात, यह हमारे फेफड़ों और पूरे श्वसन पथ को मजबूत और पोषण करने में मदद कर सकता है। विटामिन सी से भरपूर फल प्रदूषण के कुप्रभावों का प्रभावी ढंग से मुकाबला कर सकते हैं।

दिन में कब और कितने आंवले खाना होता है फायदेमंद

अधिकतम लाभ के लिए रोज सुबह खाली पेट आंवला खाएं। आप रोजाना सुबह 1-2 आंवला खा सकते हैं। एक दिन में 2 से अधिक आंवले का सेवनव नहीं करना चाहिए क्योंकि यह विटामिन सी में उच्च होता है जिसके चलते कब्ज की समस्या हो सकती है। इसके अलावा, खुद को पूरे दिन हाइड्रेटेड रखने की कोशिश करें।

आंवला खाने के अन्य लाभ

  1. आंवले में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटी-कैंसर गुण भी होता है। एक शोध के अनुसार, आंवला कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकता है। ये कैंसर से बचाव के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
  2. आंवला कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है, जिसकी वजह से हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। फाइबर और आयरन से भरपूर यह एलडीएल (कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन) के ऑक्सीकरण को नियंत्रित करने में बहुत प्रभावी है। इस अद्भुत फल का एक और लाभ यह है कि यह आर्थ्रोस्क्लेरोसिस को रोकता है, जिससे आपको हृदय रोग से बचाता है।
  3. आंवला का अर्क विटामिन ए से भरपूर होता है. यह विटामिन कोलेजन उत्पादन में आवश्यक है। यह एक ऐसा यौगिक है जो त्वचा को जवान और मुलायम बनाए रखता है। आंवला जब खाली पेट खाया जाता है तो इसमें ऐसे गुण होते हैं जो कोलेजन के क्षरण को धीमा करता है।
  4. आंवला का अर्क विटामिन ए से भरपूर होता है. यह विटामिन कोलेजन उत्पादन में आवश्यक है. यह एक ऐसा यौगिक है जो त्वचा को जवान और मुलायम बनाए रखता है. आंवला जब खाली पेट खाया जाता है तो इसमें ऐसे गुण होते हैं जो कोलेजन के क्षरण को धीमा करता है.
  5. शोध अध्ययन से पता चलता है कि पॉलीफेनोल से भरपूर इस फल में वास्तव में ऐसे गुण होते हैं जो शरीर को हाई ब्लड शुगर के ऑक्सीडेटिव गुणों से बचाव करता है। उच्च फ्रुक्टोज आहार के कारण इंसुलिन प्रतिरोध को रोकने में भी यही यौगिक प्रभावी होता है। इस वजह से आंवला डायबिटीज को रोकने में मददगार होता है।
  6. आंवला उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में कारगर होता है। इसके साथ ही ये दिमाग और शरीर दोनों को राहत देने का काम करता है। आंवला पाउडर, शहद के साथ मिलाकर खाना बहुत फायदेमंद होता है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on