Sign In
  • हिंदी

चिंता और तनाव को दूर करते हैं ये 5 पोषक तत्व, मानसिक रोगों से दिलाते हैं छुटकारा

अगर आपको ज्यादा चिंता या घबराहट होती है तो इसको कम करने का एक तरीका आपकी डाइट भी है इसलिए खाने में इन चीजों को जरूर शामिल करें।

Written by Atul Modi |Updated : December 13, 2022 10:48 AM IST

फूड से आपको एनर्जी मिलती है और आपके शरीर के लिए खाना काफी जरूरी होता है। फूड को शरीर का फ्यूल माना जाता है। अगर आप अपने खानपान की चॉइस को स्वस्थ बनाते हैं तो इससे आपके शरीर पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और आप मानसिक रूप से भी खुश और हल्दी रह सकेंगे। आपके खाने में पोषक तत्वों की मात्रा ज्यादा होनी चाहिए और जंक फूड की मात्रा कम जिससे आप शारीरिक रूप के साथ-साथ मानसिक रूप से भी स्वस्थ महसूस कर सकें और आपको डिप्रेशन, एंजाइटी आदि से छुटकारा मिल सके। आइए जानते हैं न्यूट्रीशनिस्ट लवनीत बत्रा द्वारा बताए गए ऐसे कौन-कौन से पौष्टिक तत्व या फूड हैं जिनसे आपको एंजाइटी या घबराहट कम होने में मदद मिलेगी।

चिंता तनाव दूर करने वाले पोषक तत्व - Nutrients That Relieve Anxiety in Hindi

मैग्नीशियम

मैग्नीशियम को शरीर के लिए शांत करने वाला पौष्टिक तत्व माना जाता है जो शरीर के नर्वस सिस्टम को शांत रखता है और आपकी घबराहट चिंता और परेशानी को कम करने में मदद करता है। सूर्यमुखी के बीज, अखरोट आदि सीड्स और नट्स को मैग्नीशियम के लिए खा सकते हैं।

ओमेगा 3 फैटी एसिड

3 तरह के फैटी एसिड होते हैं जिनमें से सबसे लाभदायक ईपीए माना जाता है। इसके स्रोत का सेवन करने से आपकी एंजाइटी कम होने में मदद मिलती है। इसके स्रोत में अलसी, चिया सीड्स आदि हैं।

Also Read

More News

बी विटामिन

इस विटामिन के ग्रुप में मुख्य तौर से 8 विटामिन शामिल होते हैं। यह विटामिन आपके नर्वस सिस्टम के लिए जरूरी होते हैं और आप को शांत और चिंता से मुक्त रखने में मदद करते हैं।

विटामिन डी

बहुत से लोगों में विटामिन डी की कमी होती है, यह एक वसा में घुलनशील पोषक तत्व है जो मस्तिष्क के कार्य और मनोदशा के नियमन के लिए आवश्यक है। अध्ययनों से पता चलता है कि विटामिन डी की कमी विशेष रूप से चिंता बढ़ाने सहित मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों वाले लोगों में आम है।

जिंक

स्टडी में अक्सर यह देखने को मिला है कि जिन लोगों के शरीर में जिंक जैसे पोष्टिक तत्व की कमी पाई जाती है उन्हें अक्सर एंग्जाइटी जैसे लक्षणों का सामना करना पड़ता है। इसलिए अपने शरीर में जिंक की मात्रा को जरूर पूरी करें।। इस के स्रोतों में अंडे मशरुम और विटामिन डी आदि शामिल होते हैं।

View this post on Instagram

A post shared by Lovneet Batra (@lovneetb) 

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on