Sign In
  • हिंदी

Type 2 Diabetes : ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रखना है, तो खाने में डालें दालचीनी

दालचीनी एक ऐसा मसाला है, जो ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखकर टाइप 2 डायबिटीज को करता है मैनेज।

आप कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन (Type 2 Diabetes Diet) करके भी ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रख सकते हैं। एक शोध में यह बात सामने आई है कि दालचीनी (Cinnamon) भी ब्लड शुगर को काफी हद तक कंट्रोल करने में मदद करती है।

Written by Anshumala |Updated : November 25, 2019 3:45 PM IST

आजकल ज्यादातर लोगों को डायबिटीज (Diabetes) की समस्या हो रही है। आज से कुछ वर्षों पहले तक यह एक अनुवांशिक रोग था, लेकिन अब यह लाइफस्टाइल में गड़बड़ियों के कारण भी होने लगा है। डायबिटीज में टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज से लोग परेशान होते हैं। यदि आपको टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes Diet) है, तो आपको अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। टाइप 2 डायबिटीज होने पर शरीर इंसुलिन का सही उपयोग नहीं कर पाता, जिसे इंसुलिन प्रतिरोध कहा जाता है। इसे कंट्रोल में रखने के लिए दवाओं और इन्सुलिन इंजेक्शन का सहारा लिया जाता है।

इस समस्या से बचने या कंट्रोल में रखने के लिए जरूर है ब्लड शुगर लेवल (Blood sugar level) को कंट्रोल में रखना। आप कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन (Type 2 Diabetes Diet) करके भी ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रख सकते हैं। एक शोध में यह बात सामने आई है कि दालचीनी (Cinnamon) भी ब्लड शुगर को काफी हद तक कंट्रोल करने में मदद करती है।

Diabetes Diet : टाइप 2 डायबिटीज के मरीज जरूर खाएं ये 4 हेल्दी फूड्स

Also Read

More News

टाइप 2 डायबिटीज के लक्षण (type 2 diabetes symptoms)

बार-बार पेशाब लगना।

प्यास लगना।

थकान महसूस करना।

बिना मेहनत किए ही वजन कम होना।

वेजाइना या पेनिस के पास खुजली होना।

घाव का देर से भरना।

धुंधली दृष्टि।

ब्लड शुगर लेवल रखना होगा कंट्रोल

टाइप 2 डायबिटीज होने पर जरूरी है ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखना, (Type 2 Diabetes Diet) क्योंकि यह समस्या आजीवन चलने वाली है। यदि आप ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में नहीं रखेंगे, तो सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से हार्ट डिजीज और स्ट्रोक जैसी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि ब्लड शुगर लेवल पर नजर रखें।

डाइट में बदलाव लाकर मेंटेन रखें ब्लड शुगर लेवल

अपने आहार (Diet) को संशोधित करके आप रक्त शर्करा के स्तर को मैनेज कर सकते हैं। कुछ खाद्य पदार्थ (मासले) ऐसे होते हैं, जो इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाने और रक्तप्रवाह में भोजन के अवशोषण की दर को धीमा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। कई अध्ययनों से पता चला है कि दालचीनी (एक प्रकार का सुगंधित मसाला है, जो विभिन्न प्रकार के व्यंजनों में उपयोग किया जाता है) में रक्त-शर्करा-कम करने वाले गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में टाइप 2 डायबिटीज से ग्रस्त लोगों को दालचीनी को जरूर अपने भोजन में शामिल करना चाहिए, क्योंकि इससे रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

डायबिटीज रोगी ब्लड शुगर लेवल को इन तरीकों से कम कर सकते हैं

क्या कहता है शोध

शोध में यह पता चला है कि दालचीनी के सेवन (cinnamon controls blood sugar level) से आपके रक्तप्रवाह में प्रवेश करने वाले ग्लूकोज की मात्रा को कम करने में मदद करता है। ग्लूकोज एक सामान्य शर्करा है, जो आपके रक्तप्रवाह में बनता है और उच्च रक्त शर्करा (High Blood Sugar level) के स्तर का मुख्य कारण होता है। प्रत्येक दिन सिर्फ 1 ग्राम दालचीनी के सेवन से इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता बढ़ जाती है और टाइप 2 डायबिटीज को मैनज करने में मदद मिलती है। डायबिटीज केयर जर्नल में प्रकाशित एक क्लिनिकल स्टडी के परिणामों में पाया गया कि एक, तीन या छह ग्राम हर दिन दालचीनी खाने से मध्यम आयु वर्ग के 60 मधुमेह रोगियों में 40 दिनों के बाद सीरम ग्लूकोज, ट्राइग्लिसराइड, एलडीएल या बैड कोलेस्ट्रॉल और टोटल कोलेस्ट्रॉल कम पाया गया।

ब्लड शुगर कंट्रोल रखने के लिए खानपान

लो कार्ब डाइट का सेवन करें, क्योंकि कार्बोहाइड्रेट से उच्च फूड्स का सेवन करने से ये शरीर में जल्दी घुल जाते हैं, जो बहुत तेजी से ब्लड ग्लूकोज लेवल को बढ़ाते हैं। लो कार्ब और हाई कार्ब फूड्स को पहचानने का सबसे आसान तरीका है, उन्हें ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI) के जरिए पहचानना। यह एक प्रकार का रेटिंग सिस्टम है, जो बताता है कि किस फूड में हाई कार्ब है और किसमें कार्ब की मात्रा कम है। शुगर और शुगरी फूड्स, शुगरी सॉफ्ट ड्रिंक्स, व्हाइट ब्रेड, आलू, व्हाइट राइस कुछ ऐसे ही हाई जीआई फूड्स हैं, जिनका सेवन टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों को नहीं करना चाहिए।

कुछ फल और सब्जियां, दालें, साबुत अनाज जैसे ओट्स लो जीआई फूड्स हैं। ये फूड्स आपको देर तक पेट भरा होने का अहसास कराते हैं, जिससे आपको जल्दी भूख नहीं लगती है। यह वजन कम करने में भी आपकी मदद कर सकते हैं।

हल्दी डायबिटीज रोगी के शुगर लेवल में कमी लाती है, जानें कैसे

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on