Sign In
  • हिंदी

4 ऐसे खाद्य पदार्थ जो कैंसर का खतरा बढ़ा देते हैं

Gilkes and her team identified a pattern of gene expression in post-hypoxic cells that appears to help the cells survive oxidative stress.

कैंसर की वजह से दुनियाभर में सबसे अधिक मौत होती है. खान-पान और फूड की वजह से सबसे ज्यादा कैंसर का खतरा रहता है. इंसान की जीवनशैली और खान-पान अगर सही नहीं रहता तो कैंसर की संभावना बढ़ जाती है. खान-पान की वजह से पेट का कैंसर और ओरल कैंसर तो होता ही है साथ में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है. कुछ फूड ऐसे होते हैं जिनके सेवन से कैंसर का खतरा कई गुना बढ़ जाता है.

Written by akhilesh dwivedi |Updated : February 18, 2020 10:47 AM IST

कैंसर की वजह से दुनियाभर में सबसे ज्यादा मौत होती है. कई शोध बताते हैं कि हेल्दी डाइट/स्वस्थ्य आहार/संतुलित भोजन लेने और नियमित रूप से व्यायाम/एक्सरसाइज करने से कैंसर का खतरा 30 से 50 प्रतिशत तक कम हो जाता है. इसके अलावा कई शोध यह भी बताते हैं कि खराब आहार/डाइट लेने से कैंसर का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. इंसान का खान-पान कैंसर के खतरे में मुख्य भूमिका निभाता है. कैंसर के कारण कई बार खान-पान और खाद्य पदार्थ से लिंक पाये गये हैं. कुछ शोध बताते हैं कि जरूरत से ज्यादा प्रोसेस्ड फूड का सेवन कैंसर के खतरे को बढ़ा देता है. प्रोसेस्ड शुगर और कार्ब्स का सेवन कैंसर के खतरे को कई गुना बढ़ाने का काम करता है. इसके अलावा प्रोसेस्ड मीट का अधिक सेवन भी कैंसर का कारण माना जाता है. इसके अलावा कैंसर का सबसे अधिक खतरा विकासशील देशों में देखा जाता है. हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि यहां के लोग अपने खान-पान पर विशेष ध्यान नहीं देते हैं.

स्वच्छ और स्वस्थ्य आहार में संतुलित भोजन जरूरी होता है. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता और इम्यून सिस्टम मजबूत करने के लिए भी हेल्दी डाइट जरूरी होती है. अगर खान-पान में विटामिन और पोषक तत्वों की कमी लगातार बनी रहती है, तो कैंसर का खतरा कई गुना बढ़ जाता है.

ये कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिन्हें अधिक मात्रा में सेवन करने पर विभिन्न प्रकार के कैंसर का कारण बनता है.

Also Read

More News

बहुत अधिक शुगर और प्रोसेस्ड फूड कार्ब्स

बहुत अधिक चीनी/शुगर वाले खाद्य पदार्थ और पेय आपके रक्त शर्करा के स्तर में तेजी से वृद्धि करते हैं. प्रोसेस्ड फूड जिनमें शुगर की मात्रा अधिक होती है और पोषक तत्वों और फाइबर की मात्रा  बहुत कम होती है, उनमें कैंसर का खतरा अधिक होता है.

विभिन्न अध्ययनों में कहा गया है कि एक आहार जो आपको रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाने का कारण बनता है, उससे स्तन कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर और पेट के कैंसर सहित विभिन्न कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है.

ऐसे आहार जो प्रोसेस्ड कार्ब्स में अधिक होते हैं, उनके अधिक सेवन से कोलोरेक्टल कैंसर की संभावना दोगुनी होती है. प्रोसेस्ड कार्ब्स इंसुलिन कोशिका विभाजन को उत्तेजित करता है, जो कैंसर कोशिकाओं के विकास और प्रसार का समर्थन करता है. रक्त शर्करा का उच्च स्तर भी शरीर में सूजन का कारण होता है. जो लंबे समय तक असामान्य कोशिकाओं की वृद्धि की कारक होता है, जो कैंसर का कारण भी बनता है.

प्रोसेस्ड मीट का सेवन

बड़ी मात्रा में प्रसंस्कृत मांस/प्रोसेस्ड मीट खाने से कोलोरेक्टल कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है. बेकन और हॉट डॉग सबसे लोकप्रिय प्रोसेस्ड मीट हैं.

विभिन्न अध्ययनों से प्रसंस्कृत मांस की खपत और कैंसर के खतरे में वृद्धि के बीच एक कड़ी मिली है, विशेष रूप से कोलोरेक्टल कैंसर. अध्ययन में पाया गया कि जो लोग बड़ी मात्रा में प्रोसेस्ड मीट खाते हैं, उनमें कोलोरेक्टल कैंसर होने का खतरा जो प्रोसेस्ड मीट नहीं खाते हैं उनकी तुलना में 20 से 50 प्रतिशत तक अधिक होता है.

अधिक पका या जला हुआ खाना 

अत्यधिक उच्च तापमान के संपर्क में आने वाले खाद्य पदार्थ हानिकारक यौगिकों को छोड़ते हैं. जब कुछ खाद्य पदार्थों को उच्च तापमान पर पकाया जाता है, जैसे कि फ्राइंग, ग्रिलिंग, सॉइटिंग और बारबेकिंग, हानिकारक यौगिक जैसे हेट्रोसायक्लिक एमाइंस और उन्नत ग्लाइकेशन अंत उत्पादों का उत्पादन किया जाता है और इन यौगिकों का अतिरिक्त निर्माण सूजन को बढ़ाता है और इसमें प्रमुख भूमिका निभा सकता है. कैंसर का विकास.

पशु उत्पादों जैसे खाद्य पदार्थ जो वसा और प्रोटीन में उच्च होते हैं और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ उच्च तापमान के संपर्क में आने पर हानिकारक यौगिकों का उत्पादन करने की संभावना रखते हैं.

लाल मांस, पनीर, तले हुए अंडे, मार्जरीन, मक्खन, क्रीम पनीर, तेल, नट और मेयोनेज़ उच्च तापमान के संपर्क में आने पर इन हानिकारक यौगिकों का उत्पादन करने के लिए सबसे अधिक संभावना वाले डेयरी उत्पाद हैं.

डेयरी उत्पादों का अधिक सेवन

डेयरी उत्पादों के अधिक सेवन से प्रोस्टेट कैंसर का खतरा बढ़ सकता है. विभिन्न अध्ययनों में कहा गया है कि डेयरी उत्पादों की अधिक खपत से प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा बढ़ सकता है.

अपने अंतिम निष्कर्षों में प्रोस्टेट कैंसर के बारे में 4,000 पुरुषों के बारे में अध्ययन करने वाले एक अध्ययन में कहा गया है कि पूरे दूध की अधिक खपत से बीमारी के बढ़ने और मृत्यु का खतरा बढ़ गया है.

विभिन्न सिद्धांतों से पता चलता है कि डेयरी उत्पादों के संबंध में निष्कर्ष कैंसर पैदा करने का एक जोखिम कारक है क्योंकि कैल्शियम का उच्च सेवन स्तर, वृद्धि कारक 1 जैसे इंसुलिन और गर्भवती गायों से एस्ट्रोजन हार्मोन.

आंत कैंसर का लक्षण.

लंग्स कैंसर से बचने बेहद सरल उपाय.

किस उम्र में बढ़ जाता है ओवेरियनस कैंसर होने का खतरा.

स्तन कैंसर से बढ़ जाता है हृदय रोग का खतरा, इन उपायों से करें बचाव.

लंग कैंसर (Lung Cancer) का बढ़ रहा है खतरा, जानें बचाव के आसान उपाय.

ल्यूकेमिया कैंसर के सामान्य संकेत – जानें कैसे बचें इस ब्लड कैंसर बीमारी से.

इस मछली को खाने से कैंसर का खतरा होता जाता है कम.

सॉफ्ट टिशू कैंसर से पीड़ित थे अरुण जेटली, जानें इस बीमारी के बारे में.

क्या वाइन पीने से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम हो सकता है ?

Uterus Cancer : बचना है यूटरस कैंसर से तो भूलकर भी इन 6 शारीरिक लक्षणों को नजरअंदाज ना करें.

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on