Sign In
  • हिंदी

मानसिक शांति, स्वस्थ शरीर पाने के लिए कभी-कभी चुप रहना भी है जरूरी, जानें मौन रहने के फायदे

मानसिक शांति, स्वस्थ शरीर पाने के लिए कभी-कभी चुप रहना भी है जरूरी, जानें मौन रहने के फायदे

यदि आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो कभी-कभी चुप रहने की आदत भी डाल लें। चुप रहना यानी मौन व्रत धारण करना। जी हां, सप्ताह में एक दिन भी मौन (Silence fasting benefits in Hindi) रहते हैं, तो सेहत को होते हैं ये फायदे...

Written by Anshumala |Updated : December 15, 2021 11:09 AM IST

Silence Fasts Benefits in Hindi: क्या आप सारा दिन बोलते ही रहते हैं? ऑफिस या स्कूल-कॉलेज में होते हैं, तो भी आपका मुंह गॉसिप करने से थकता नहीं है? तो जान लें अधिक बोलना थोड़ी देर चुप रहने की तुलना में अधिक नुकसानदायक हो सकता है। अधिक बोलने या फिर तेज आवाज में जल्दी-जल्दी बात करने से आपका हार्ट बीट (Heart Beat) बढ़ सकता है, जो दिल की सेहत के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं। ऐसे में स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो कभी-कभी चुप रहने की आदत भी डाल लें। चुप रहना यानी मौन व्रत (Maun Vrat Benefits) धारण करना। जी हां, सप्ताह में एक दिन भी मौन (Silence fasting benefits in Hindi) रहते हैं, तो दिल की सेहत के लिए अच्छा होता है। इससे दिमाग को शांति मिलती है, आपके मुंह को भी आराम मिलता है। जानें, मौन रहने के फायदे (Maun Vrat Dharan karne ke fayde) क्या-क्या हो सकते हैं....

मौन व्रत के फायदे (Maun Vrat ke fayde)

दिल रहता है स्वस्थ और निरोग

यदि आपको दिल की कोई भी समस्या है, तो अधिक तेज, जल्दी बोलने से बचें। आप ज्यादा बोलेंगे, तो थकान महसूस होगी, फिर आपको दिल में तकलीफ महसूस हो सकती है। आप जितना कम बोलेंगे, उतना ही हार्ट के लिए लाभदायक (Tips for Healthy Heart) होता है। जब आप तेज और चिल्ला-चिल्लाकर बातें करते हैं, तो इससे हार्ट बीट बढ़ सकती है। यह हार्ट अटैक (Heart Attack) या अन्य दिल संबंधित समस्याओं (Heart Diseases) का कारण भी बन सकता है।

एकाग्रता बढ़ाए मौन व्रत

थोड़ी देर चुप रहने से शरीर और दिमाग दोनों को ही शांति और सुकून का अहसास होता है। जब आप चुप रहते हैं, तो इससे एकाग्रता या ध्यान लगाने की क्षमता में सुधार होता है। एकाग्रता में सुधार बच्चों के लिए बेहद जरूरी है, इससे वे अपनी पढ़ाई पर पूरी तरह से फोकस कर सकते हैं। ऐसे में बच्चों में थोड़ी देर चुप रहने की आदत विकसित करें।

Also Read

More News

मुंह और जबड़े को मिलता है आराम

सारा दिन आप कुछ ना कुछ बोलते ही रहते हैं। इससे मुंह तो थकता ही है, जबड़े भी दर्द करने लगते हैं। तो यदि आप एक दिन या कुछ घंटों के लिए मौन हो जाएं, तो चेहरे, जबड़े, मुंह आदि को आराम मिल सकता है।

मौन व्रत धारण करने के अन्य सेहत लाभ (Benefits of Silence in Hindi)

  • आप दिन भर ना जाने कितनी बार झूठ बोलते होंगे और कहा जाता है झूठ बोलना पाप होता है। तो यदि आप एक दिन चुप रहेंगे, तो झूठ बोलने से बचे रहेंगे।
  • मौन व्रत रखने से आप बेफिजूल की बातें, गॉसिप से भी बचे रह सकते हैं।
  • आपको अपने गुस्से पर काबू करना आ जाएगा।
  • आपको तन-मन से शांति महसूस होगी।
  • कुछ अध्ययनों में यह बात भी सामने आई है कि चुप रहने से आप क्रिएटिव होते हैं। जब आप अकेले होते हैं, तभी क्रिएटिव वर्क पूरे होते हैं।
  • बढ़ते स्ट्रेस, स्ट्रेंस, एंग्जायटी के कारण मन की शांति पाना मुश्किल है। आज अधिकतर लोग स्ट्रेस से जूझ रहे हैं। कुछ समय अकेले चुप रहने से रिलैक्स होते हैं, जिससे स्ट्रेस लेवल में कमी आती है।

(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सभी जानकारियां सूचनात्मक उद्देश्य से लिखी गई हैं। चुप रहने और अधिक बोलने के फायदे-नुकसान के बारे में आप किसी एक्सपर्ट से जानें, उसी अनुसार किसी भी उपाय को अपनाने और निष्कर्ष तक पहुंचने की कोशिश करें।)

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on