Advertisement

डैंड्रफ और मुंहासों जैसी समस्याओं से पाना है छुटकारा तो लगाएं नीम का तेल

नारियल, जैतून, बादाम का तेल लगाकर भी आपके स्कैल्प पर होने वाली खुजली, इंफेक्शन की समस्या दूर नहीं हो रही है, तो नीम का तेल लगाएं। इससे रूसी की समस्या भी दूर होगी। नीम के बीजों से निकाला गया यह तेल बालों से लेकर त्वचा पर होने वाले फंगल इंफेक्शन को दूर करता है। जानें, नीम तेल के फायदे (Neem oil benefits in hindi) और अप्लाई करने का सही तरीका...

Neem Oil Benefits in Hindi: नीम की पत्तियों (Neem) का इस्तेमाल तो आप खूब करते होंगे, लेकिन अब नीम के तेल (Neem Oil) का इस्तेमाल करके देखें। नीम के तेल में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं। इस तेल को नीम के फल और इसके बीजों से तैयार किया जाता है। यह कई शारीरिक रोगों को दूर करने के साथ त्वचा और बालों की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है। नारियल, जैतून, बादाम का तेल लगाकर आपके स्कैल्प पर होने वाली खुजली, इंफेक्शन की समस्या दूर नहीं हो रही है, तो नीम का तेल (Oil) लगाएं। इससे रूसी की समस्या भी दूर होगी। नीम का इस्तेमाल वर्षों से आयुर्वेद में कई रोगों को दूर करने के लिए किया जा रहा है। नीम के बीजों से निकाला गया तेल कई तरह से फायदेमंद होता है। बालों से लेकर त्वचा पर होने वाले फंगल इंफेक्शन को दूर करता है नीम का तेल (Neem ke tel ke fayde)। जानें, नीम तेल के फायदे (Neem oil benefits in hindi) और अप्लाई करने का सही तरीका...

रूसी से दिलाए छटाकार नीम ऑयल

नीम का तेल बच्चों को जरूर लगाएं। अक्सर छोटी लड़कियों को सिर में जुएं हो जाते हैं। नीम का तेल लगाने से जुएं मरते हैं। सिर पर अधिक रूसी हो गए हैं, तो डैंड्रफ हटाने का काम करता है यह तेल (Neem Oil for Hair Care)। जुएं हटाने के लिए रात में सोने से पहले तेल लगा लें और सुबह बालों को साफ कर लें। इससे जुएं मर जाते हैं। डैंड्रफ की समस्‍या है को दूर करने के लिए नीम का तेल प्रत्येक सप्ताह दो दिन स्कैल्प पर अच्छी तरह से अप्लाई करें। इससे बालों को मजबूती और चमक भी मिलती है।

मुंहासों को करे कम नीम का तेल

किशोरावस्था में पहुंचते ही युवक-युवतियां मुंहासों से परेशान रहते हैं। मुंहासे चेहरे की सुंदरता को कम करता है। इसमें छोटे-बड़े पस वाले दानें होना, सूखने के बाद त्वचा पर दाग-धब्बे, गड्ढे आदि होने से त्वचा की खूबसूरती बिगड़ जाती है। लड़कियां तो एक मुंहासे होने पर ना जाने कितने एक्ने क्रीम, लोशन का इस्तेमाल करने लगती हैं। आप मुंहासों का इलाज नेचुरल तरीके से करें। बेहतर है कि आप नीम का तेल इस्‍तेमाल करना शुरू कर दें। नीम में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं। ये सभी मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्‍म करते हैं।

Also Read

More News

नीम के तेल से फंगल इंफेक्शन होगा दूर

यदि आप बार-बार फंगल इंफेक्शन की समस्या से रहते हैं परेशान, तो नीम का तेल फायदेमंद साबित हो सकता है। फंगल इंफेक्शन को ठीक करने के लिए आप वहां नीम का तेल लगाएं। समस्या खुद ब खुद कुछ ही दिनों में ठीक हो जाएगी।

टी ट्री ऑयल में मिलाएं नीम का तेल

टी ट्री ऑयल में तुलसी के अर्क से तैयार तेल और नीम के तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर मिश्रण बनाएं। तीनों तेल को एक समान मात्रा में ही लेना है। इस मिश्रण को स्कैल्प पर लगाएं और 1-2 घंटे के लिए छोड़ दें। अब आप सादे पानी या शैम्पू करने के बाद अपने बालों को साफ पानी से धो लें।

Neem Leaves & Coronavirus : नीम की पत्तियों से बेअसर होगा कोरोनावायरस? जानें, क्या कहते हैं विशेषज्ञ

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on