Sign In
  • हिंदी

मानसून के दौरान त्वचा की यूं करें देखभाल !

मानसून में सोप-फ्री क्लिंजर से चेहरे को दिन में दो-तीन बार साफ करें, इससे त्वचा से जरूरी ऑयल को निकाले बिना साफ रखने में मदद मिलती है।

Written by Editorial Team |Updated : June 18, 2018 7:04 PM IST

मानसून के दौरान अपनी त्वचा की देखभाल करना यह सोचकर बंद नहीं कर दीजिएगा कि सूरज की हानिकारक पराबैंगनी किरणें कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगी। इस मौसम में सोप-फ्री क्लिंजर और टोनर का इस्तेमाल करें। 'प्लम' के संस्थापक शंकर प्रसाद, सौंदर्य त्वचा विशेषज्ञ व 'कोसमोडर्मा स्किन एंड हेयर क्लिनिक ' की संस्थापक चित्रा वी. आनंद और 'क्रोनोकेयर' के निदेशक सिरिल फिलिबोइस ने बारिश के मौसम में त्वचा की देखभाल के संबंध में ये सुझाव दिए हैं :

  • सोप-फ्री क्लिंजर से चेहरे को दिन में दो-तीन बार साफ करें। यह आपकी त्वचा से जरूरी ऑयल को निकाले बिना इसे साफ और स्वस्थ रखेगा।
  • त्वचा पर जमी मृत परत से निजात पाने के लिए इसकी गहराई से सफाई बेहद जरूरी है। माइक्रोडर्मेब्रेजन या माइल्ड केमिकल पील जैसे ट्रीटमेंट से त्वचा को किसी प्रकार का संक्रमण होने की संभावना कम होती है।
  • कम मेकअप करें, जिससे आपकी त्वचा के रोमछिद्र सांस ले सकें। होंठों की कोमलता बरकरार रखने के लिए लिप बाम लगाएं।
  • टोनर का इस्तेमाल करना नहीं भूलें। एंटीऑक्सीडेंट युक्त जैसे ग्रीन टी और ग्लाकोलिक एसिड युक्त अल्कोहल-फ्री टोनर का इस्तेमाल करें, जो मृत त्वचा हटाने के दौरान गर्मियों में पसीना निकलने के कारण आपके फैले रोमछिद्रों में कसाव लाकर सिकोड़ता है और दाग-धब्बों व मुंहासों को नियंत्रित करता है।

monsoon-skincare 2

  • त्वचा की रंग के हिसाब से सही सनस्क्रीन का इस्तेमाल बेहद जरूरी है। एसपीएफ-30 से कम वाले सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल नहीं करें। शरीर के खुले हिस्सों पर सनस्क्रीन लगाएं। तैराकी करने या तौलिए से शरीर को पोंछने के बाद फिर से सनस्क्रीन लगाना नहीं भूलें। ज्यादा सुरक्षा के लिए हर दो-तीन घंटे पर सनस्क्रीन लगाएं।
  • उमसभरे मौसम में त्वचा से अतिरिक्त तेल निकालने के लिए सप्ताह में एक बार क्ले मास्क का इस्तेमाल करें। टी ट्री या ग्रीन ट्री सत्व वाले मास्क का इस्तेमाल करने की कोशिश करें, जो मृत त्वचा को हटाकर और रोम छिद्रों से अशुद्धिया निकालकर मुंहासों को दूर रखेगा।
  • गर्मियों में तेज धूप और प्रदूषण से आपकी त्वचा में मौजूद प्राकृतिक तेल निकल जाती है, जिसके चलते टैनिंग हो जाती है और झुर्रियां आदि पड़ जाती हैं और समय से पहले बढ़ती उम्र के लक्षण नजर आने लगते हैं, इसलिए कम से कम एसपीएफ -30 वाला हल्का नॉन ग्रीजी डे क्रीम लगाएं।

monsoon-skincare 1

Also Read

More News

  •  चेहरे के संवेदनशील हिस्सों जैसे आंखों और होंठों की जगह की त्वचा अन्य जगहों की त्वचा के मुकाबले ज्यादा पतली व संवेदनशील होती है, इसलिए इन्हें गर्मियों में अतिरिक्त देखभाल की जरूरत होती है। तेज धूप से आंखों के नीचे झुर्रियां पड़ सकती हैं। ये बर्न हो सकते हैं, जबकि होंठ फट सकते हैं। आंखों पर नियमित रूप से पानी के छीटें मारें और होंठों पर लिप बाम लगाएं।
  • बारिश के मौसम में पेराबेंस, मिनरल ऑयल या पैराफिन फ्री वाटरप्रूफ काजल लगाएं। रात में सोने से पहले सारा मेकअप हटा लें और आंखों को आराम देने के लिए गुलाब जल में भिगोए रुई के फाहे को आंखों पर रखें।
  • प्रतिरोधक क्षमता के लिए आहार में विटामिन सी को शामिल करें, क्योंकि यह इंफेक्शन से मुकाबला करने में प्रभावी होता है। इंफेक्शन से बचने के लिए साफ त्वचा पर एंटीफंगल पाउडर लगाएं।

स्रोत: IANS Hindi.

चित्रस्रोत: Shutterstock.

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on